विश्व बाघ दिवस: देश के 50 टाइगर रिजर्व में 2967 बाघ

विश्व बाघ दिवस: देश के 50 टाइगर रिजर्व में 2967 बाघ

बाघों के संरक्षण के प्रति जागरूक करने के लिए प्रत्येक वर्ष 29 जुलाई को विश्व बाघ दिवस मनाया जाता है. बाघ भारत का राष्ट्रीय पशु है. यह भारतीय उपमहाद्वीप में उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र को छोड़कर पूरे देश में पाया जाता है.

चिंता की बात ये है कि बाघ को वन्यजीवों की लुप्त होती प्रजाति की सूची में रखा गया है. लेकिन राहत की बात ये है कि ‘सेव द टाइगर’ जैसे राष्ट्रीय अभियानों की बदौलत देश में बाघों की संख्या में वृद्धि हुई है. 

बाघों के संरक्षण के लिए भारत में 1973 में प्रोजेक्ट टाइगर लांच की गयी थी. उस वक्त देश में 9 टाइगर रिजर्व थे. फिलहाल भारत में 50 टाइगर रिजर्व है. वही बाघों की संख्या 2967 है.

बाघ संरक्षण के काम को प्रोत्साहित करने, उनकी घटती संख्या के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए साल 2010 में रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में आयोजित एक शिखर सम्मेलन में अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस मनाने की घोषणा हुई थी.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें