भारत और नेपाल के बीच डेढ़ वर्ष बाद फिर से चलेंगी बस सेवा

भारत और नेपाल के बीच डेढ़ वर्ष बाद फिर से चलेंगी बस सेवा

पटना: भारत-नेपाल बस सेवा जल्द शुरू होगी. नेपाल सरकार की अनुमति के लिए परिवहन विभाग के सचिव का पत्र लेकर दरभंगा डिपो के बीएसआरटीसी के क्षेत्रीय प्रबंधक शरणानंद झा को दो दिन बाद काठमांडू भेजा जा रहा है. पत्र भारतीय दूतावास के माध्यम से नेपाल के अधिकारियों को दिया जायेगा.

इधर बीएसआरटीसी ने अपनी तैयारी पूरी कर रखी है. नेपाल सरकार की सहमति मिलते ही भारत-नेपाल बस सेवा फिर से शुरू हो जायेगी. सब कुछ सामान्य रहा तो अगले सप्ताह के अंत तक या अधिक से अधिक इस माह के अंत तक इसके शुरू हो जाने की संभावना है.

पटना से जनकपुर व काठमांडू के लिए बसें चलेंगी. इसे यात्रियों की बुकिंग के अनुसार बोधगया तक के लिए भी विस्तारित किया जायेगा. पटना से काठमांडू एक बस, जबकि जनकपुर के लिए चार बसें आयेंगी और जायेंगी.

भारत-नेपाल बस सेवा लगभग डेढ़ वर्ष बाद शुरू होगी. 24 मार्च 2019 को कोरोना संक्रमण के कारण लॉकडाउन की घोषणा होने के बाद से ही बीएसआरटीसी की यह अंतरदेशीय बस सेवा बंद है. दोबारा बस सेवा शुरू होने पर इस रूट में नयी बसें दी जायेंगी जो टू बाइ टू पुश बैक सीट से लैस वातानुकूलित डीलक्स बसें होंगी.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें