लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर हादसा, 18 की मौत, 20 घायल, सीतामढ़ी से दिल्ली जा रही थी बस

लखनऊ, 10 जुलाई (हि.स.)। उत्तर प्रदेश में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर उन्नाव जिले के बेहटा मुजावर क्षेत्र में गढ़ा गांव के पास आज सुबह 5:30 एक स्लीपर बस आगे चल रहे दूध टैंकर से टकरा गई। इस हादसे में एक बच्चे समेत 18 लोगों की मौत हो गई। करीब 20 लोग घायल बताए गए हैं।

चीख-पुकार के बीच पुलिस को सूचना देकर आसपास के लोगों ने बचाव कार्य शुरू किया। इस बीच पहुंची स्थानीय पुलिस ने राहगीरों की मदद से बस में फंसे लोगों को बाहर निकलवाया।

पुलिस उपाधीक्षक अरविंद सिंह ने बताया कि बस बिहार से दिल्ली जा रही थी। इसमें अधिकतर मजदूर सवार थे। बस में करीब 50 यात्री थे। संभव है चालक को झपकी लगने से हादसे हुआ हो। हताहत और घायलों के नाम-पते जुटाए जा रहे हैं। घायलों को बांगरमऊ प्राथमिक चिकित्सा केंद्र में भर्ती कराया गया है। एसडीएम नम्रता सिंह ने चिकित्सा केंद्र पहुंचकर घायलों से बातचीत की। (विस्तृत विवरण की प्रतीक्षा है।)

लखनऊ आगरा एक्सप्रेस-वे पर उन्नाव जनपद में आज सुबह लगभग साढ़े पांच बजे दूध के टैंकर (यूपी70 सीटी 3999 ) में बिहार से आ रही डबल डेकर बस (यूपी95 टी 4720) की जोरदार टक्कर में 18 यात्रियों की मौके पर मौत हो गई। 30 से ज्यादा घायल हैं। इनमें कई की हालत नाजुक है। यह बस सीतामढ़ी से दिल्ली जा रही थी । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर दुख प्रकट करते हुए अधिकारियों को मौके पर पहुंचकर हर संभव मदद करने के निर्देश दिए हैं।

घटनास्थल पर पुलिस अधीक्षक उन्नाव, क्षेत्राधिकारी बांगरमऊ और अन्य थानों की पुलिस मौजूद है। यह हादसा बेहटा मुजावर थाना क्षेत्र के गढ़ा गांव के सामने हुआ है।

मृतकों में दिलशाद पुत्र अशफाक निवासी थाना मोदीपुरम जिला मेरठ, बीटू पुत्र राजेन्द्र निवासी थाना भादूर जिला शिवहर, बिहार, रजनीश पुत्र रामविलास निवासी जिला सीवान बिहार, लालबाबू दास पुत्र रामसूरज दास निवासी थाना हिरागा जिला शिवहर बिहार, रामप्रवेश कुमार, भरत भूषण कुमार पुत्र लाल बहादुर दास, बाबू दास पुत्र रामसूरज दास निवासी, मो. सद्दाम पुत्र पुत्र मो. बशीर निवासी गमरोली थाना शिवहर, बिहार शामिल हैं।

नगमा पुत्री शहजाद, शबाना पत्नी शहजाद निवासी भजनपुरा दिल्ली, चांदनी पत्नी मो. शमशाद निवासी शिवोली, मुलहारी, मो. शफीक पुत्र अब्दुल बसीर, मुन्नी खातून पत्नी अब्दुल बसीक, तौफीक आलम पुत्र अब्दुल बसीर की शिनाख्त कर ली गई है। चार लोगों की समाचार लिखे जाने तक शिनाख्त नहीं हो पाई है।

0Shares
A valid URL was not provided.