नक्सलियों ने बंधक बनाए गए कोबरा जवान राकेश्वर सिंह को 6 दिन बाद छोड़ा

नक्सलियों ने बंधक बनाए गए कोबरा जवान राकेश्वर सिंह को 6 दिन बाद छोड़ा

बीजापुर: जिले के तर्रेम थाना क्षेत्र में 03 अप्रैल को मुठभेड़ के बाद बंधक बनाये गए कोबरा जवान राकेश्वर सिंह मन्हास को नक्सलियों ने गुरुवार को रिहा कर दिया। जवान को नक्सलियों से छुड़ाने के लिए सरकार ने मध्यस्थता टीम गठित की थी जिसमें पद्मश्री धर्मपानी सैनी, गोंडवाना समाज के अध्यद्वक्ष तेलम बोरैया शामिल थे। बस्तर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी. ने राकेश्वर सिंह मनहास की रिहाई के पुष्टि करते हुये उनकी सही सलामत वापस कैम्प लौटने की पुष्टि की है। उन्होंने जवान की रिहाई में सहयोग करने वाले समस्त नागरिकों, सामाजिक संगठनों और क्षेत्र की जनता का आभार व्यक्त किया है।
नक्सलियों के बुलावे पर जवान को रिहा कराने बस्तर के बीहड़ में वार्ता दल समेत कुल 11 सदस्यीय टीम पहुंची थी।मध्यस्तता टीम में शामिल पद्मश्री धर्मपाल सैनी, गोंडवाना समाज के अध्यक्ष तेलम बोरैया समेत सैकड़ों ग्रामीणों की मौजूदगी में नक्सलियों ने जवान को रिहा कर दिया है। जवान की रिहाई के लिए मध्यस्तता कराने गयी टीम के साथ स्थानीय 07 पत्रकारों की टीम भी मौजूद थी। मध्यस्तता टीम के सदस्यों ने तर्रेम थाने में जवान को सौंप दिया है, जिसे तर्रेम के सीआरपीएफ कैंम्प लाया गया, जहां जवान के स्वास्थ्य की जांच की जा रही है।
इनपुट हिन्दुस्थान समाचार

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें