महाराजगंज मशरक रेलखंड पर 21 अक्टूबर से ट्रेन का परिचालन

महाराजगंज मशरक रेलखंड पर 21 अक्टूबर से ट्रेन का परिचालन

इस रेलखंड पर ट्रेन सेवा चालू हो जाने से महाराजगंज के अलावा बसंतपुर, भगवानपुर एवं नवीगंज थाना क्षेत्र सहित इसके आसपास के इलाके के लोगों को आजादी के बाद पहली बार अपने गृह थाना क्षेत्र से ट्रेन से सफर करने का मौका मिलेगा. वही 21अक्तूबर को मशरक जंक्शन भी बन जाएगा.
सांसद सिग्रीवाल ने कहा कि  21 अक्तूबर को महाराजगंज रेलवे स्टेशन पर रेल राज्यमंत्री मनोज कुमार सिन्हा ट्रेन को हरी झंडी दिखा विधिवत शुभारंभ करेंगे.मौके पर रेलवे के कई वरीय व कनीय अधिकारी भी उपस्थित रहेंगे. इसकी तैयारी रेलवे प्रशासन ने शुरू कर दी है. रेलवे अधिकारियों ने दौरा शुरू कर दिया है. करीब दो दशक से इस रेल खंड के निर्माण की प्रक्रिया चल रही थी और करीब पांच माह पहले ही निर्माण का कार्य पूरा करा लिया गया है.
संरक्षा आयुक्त ने इस रेल खंड का निरीक्षण तीन माह पहले ही किया था और ट्रेनों का परिचालन शुरू करने की स्वीकृति दे दी है. मशरक-महाराजगंज नयी बड़ी रेल लाइन का उद्घाटन होने के बाद शुरुआती दौर में एक जोड़ी पैसेंजर ट्रेन का परिचालन किया जाएगा. ट्रेन का परिचालन मशरक से महाराजगंज होते हुए दुरौंधा-सिवान के बीच किया जाएगा. इस रेल खंड के चालू होने से मशरक से सीधे सिवान तक की यात्रा करना आसान हो जाएगा.
बताते चले के तत्कालीन रेलमंत्री नीतीश कुमार ने इस नई रेलखंड निर्माण कार्य का शिलान्यास महाराजगंज में किया था. लेकिन राशि कम रहने के कारण निर्माण कार्य में काफी विलंब हुआ. केन्द्र में नरेन्द्र मोदी की सरकार बनते ही राशि मिली और निर्माण कार्य पूर्ण हो गया. इस वजह से लंबे समय के बाद परियोजना पूरी हुई. इस रेल खंड पर ट्रेनों का परिचालन शुरू होने से सारण तथा सिवान जिले के ग्रामीण इलाकों के लोगों को इसका लाभ मिलने की आशा है.
रेलवे प्रशासन सूत्रों ने भी बताया कि मशरक-महाराजगंज नयी बड़ी रेल लाइन का उद्घाटन 21अक्टूबर को करने का रेल राज्यमंत्री मनोज कुमार सिन्हा ने स्वीकृति दी है और इसके मद्देनजर तैयारी शुरू कर दी गयी है. हालांकि अधिकारिक रूप से इसकी घोषणा अभी नहीं की गयी है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.