DM और SP ने लिया कोविड-19 टीका का पहला डोज, बोले DM- कोरोना से जंग जीतने में रामबाण साबित होगा वैक्सीन

DM और SP ने लिया कोविड-19 टीका का पहला डोज, बोले DM- कोरोना से जंग जीतने में रामबाण साबित होगा वैक्सीन

Chhapra: जिले में शनिवार से टीकाकरण अभियान के दूसरे चरण की शुरुआत की गई. जिसके तहत जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के पदाधिकारियों व कर्मचारियों को टीकाकरण शुरू किया गया.

पहले दिन जिलाधिकारी डॉ निलेश रामचंद्र देवरे सदर अस्पताल के टीकाकरण केंद्र पर पहुंचे और उन्होंने अपना टीकाकरण कराया. टीकाकरण के बाद जिलाधिकारी ने कहा कि टीका लेने के बाद कहा कि कोविड का टीका कोरोना से जंग जीतने के लिए रामबाण साबित हो रहा है. टीका लगवाने के बाद आधा घंटे तक निगरानी में रहा. इसके बाद कार्य एवं दायित्व को बखूबी से निर्वहन किया. कोरोना पर हमेशा के लिए विजय पाने के लिए दूसरी डोज लगवाने का इंतजार है. टीका लगवाने का कोई भी साइड इफेक्ट नहीं है. यह टीका पूर्ण रूप से सुरक्षित है. यह वैक्सीन भारत में बनी है. टीकाकरण स्थलों पर जब भी समय आये तो टीकाकरण आकर अवश्य करा लें.


डीएम ने बताया कि कोविडशील्ड का टीका सुरक्षित और असरदार है. मानक के अनुरूप पूरी की गयी औपचारिकताए
जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड का टीकाकरण दो बार कराया जायेगा, पहला टीका लगने के 28 दिन बाद दूसरा टीका लगाया जायेगा. टीकाकरण से पहले जिलाधिकारी  द्वारा पंजीकरण, पहचान पत्र सहित सभी औपचारिकताएं निर्धारित मानक के अनुरूप पूरी की. इसके बाद कोरोना रोधी वैक्सीन लगवाई. टीकाकरण के बाद जिलाधिकारी आधे घंटे के लिए निगरानी रूम में रुके. उन्होंने कहा कि कोविड टीका पूरी तरह से सुरक्षित है। इसका कोई प्रतिकूल प्रभाव नहीं हैं.

निर्भिक होकर कराएं टीकाकरण
जिलाधिकारी के टीकाकरण के पष्चात एडीएम डाॅ गगन ने भी टीका लिया. टीका लेने के बाद एडीएम डॉ. गगन ने कहा कि वैक्सीन लेने के बाद किसी तरह साइड इफेक्ट नहीं हुआ.  जो भी लोग वैक्सीन लिए, उन्हें भी कोई दिक्कत नहीं हुयी. वैक्सीन के बाद सभी लोग पूरी तरह स्वस्थ दिखे. उन्होंने कहा कि इससे साफ है कि वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है. उन्होंने अन्य लोगों से भी उत्साह के साथ निर्भिक होकर वैक्सीनेशन कराने की अपील  की. उन्होंने बताया  वैक्सीन लेने से किसी प्रकार की परेशानी उत्पन्न नहीं होगी. समाज व परिवार की सुरक्षा के लिए टीकाकरण बहुत जरूरी है.

87 प्रतिशत टीकाकरण के साथ बिहार में चैथे स्थान पर है सारण जिला
जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे ने कहा कि प्रथम चरण में 87 प्रतिशत टीकाकरण का कार्य पूर्ण कर लिया गया. अब 16076 स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जा चुका है. शेष स्वास्थ्य कर्मियों को शनिवार को भी टीकाकरण किया जा रहा है. शत प्रतिशत लक्ष्य हर हाल में हासिल करना है. 87 प्रतिशत लक्ष्य के साथ सारण जिले को बिहार में चैथा स्थान प्राप्त हुआ है. इसे प्रथम स्थान पर ले जाना हमारा लक्ष्य है.

पुलिस लाईन में पुलिस पदाधिकारियों का टीकाकरण
सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा ने बताया कि दूसरे चरण में जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन के पदाधिकारियों व कर्मचारियों का टीकाकरण किया जा रहा है. पुलिस कर्मियों के टीकाकरण के लिए पुलिस केंद्र में टीकाकरण स्थल बनाया गया है. जहां पर प्रशिक्षित कर्मियों के द्वारा टीका लगाया जा रहा है.

इस मौके पर अपर समहर्ता डॉ. गगन,  सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. अजय कुमार शर्मा, डीएस डॉ. रामइकबाल प्रसाद, डीपीएम अरविन्द कुमार, डीपीसी रमेश चंद्र कुमार, एसएमओ डॉ रंजितेश कुमार, एसएमसी आरती त्रिपाठी, डीएमएंडई भानू शर्मा, हेल्थ मैनेजर राजेश्वर प्रसाद, सीफार के डीसी गणपत आर्यन समेत अन्य स्वास्थ्य कर्मी मौजूद थे.                                                                                                                                                           

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें