कोविड-19 टीका: स्वास्थ्यकर्मियों को लगा टीका, तो आमलोगों में दूर हुई झिझक

कोविड-19 टीका: स्वास्थ्यकर्मियों को लगा टीका, तो आमलोगों में दूर हुई झिझक

Chhapra: वैश्विक महामारी के खिलाफ जिले में कोविड-19 टीकाकरण की शुरुआत कर दी गयी है. प्रथम चरण में स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जा रहा है। टीके को लेकर आम लोगों में तरह-तरह की चर्चाएं हैं. कोविड-19 टीका को लेकर लोगों में झिझक को दूर करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से भी प्रयास किया जा रहा है. लेकिन इन सब के बीच अधिकतर लोगों का कहना है कि वे टीका लेने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. उन्हें वैज्ञानिकों के साथ-साथ कोविड वैक्सीन की सुरक्षा पर भी पूरा भरोसा है. कोविड-19 से बचाव के लिए वैक्सीन आने के बाद से ही स्थाई निजात की उम्मीद के साथ लोगों में खुशी का माहौल है. पहले चरण के तहत स्वास्थ्य कर्मियों का वैक्सीनेशन पूरे जोर-शोर के साथ किया जा रहा है. वैक्सीनेशन के बाद कहीं से भी साइड इफेक्ट की खबरें सामने नहीं आई हैं. जो वैक्सीन के पूरी तरह सुरक्षित होने का जीता-जागता सबूत है. इसलिए वैक्सीन लेने से किसी प्रकार का परहेज नहीं करें. क्योंकि, स्वास्थ्य विभाग के अनुसार वैक्सीन ही कोविड-19 से स्थाई निजात का एकमात्र उपाय और सबसे बेहतर व आसान रास्ता भी है.

सामाजिक जिम्मेदारी को निभाएं
नीतीश कुमार, युवा, बीबीपुर, गड़खा सारण ने कहा कि ‘अगर हम टीका नहीं लगवा रहे हैं तो हम अपनी सामाजिक जिम्मेदारी पूरी नहीं कर रहे। मुझे टीके पर पूरा भरोसा है और जब आम आदमी की बारी आयेगी तो सबसे पहले मैं अपना और अपना परिवार का टीकाकरण कराउंगा. मेरा आपसे अनुरोध है कि टीका लगवाएं। टीके को लेकर संकोच खत्म होनी ना चाहिए क्योंकि कोविड टीकाकरण हमें इस महामारी को समाप्त करने की दिशा में ले जा रहा है.’

मैं टीकाकरण के लिए पूरी तरह से तैयार
मिथिलेश सिंह त्यागी, किसान, केवानी, गड़खा सारण ने कहा कि मेरी उम्र भी 60 के करीब है और मुझे खुशी है कि स्वास्थ्यकर्मियों व पुलिसकर्मियों के बाद कोविड का टीका मुझे लगेगा. टीकाकरण अभियान स्वास्थ्य क्षेत्र के दर्पण के रूप में काम कर रहा है. अतीत में, भारत चेचक और पोलियो जैसी घातक बीमारियों को दूर करने में सफल रहा था. हम में से कई टीकाकरण करते समय याद कर सकते हैं, हम इसके बाद एक सूजन और हल्के हो जाते थे. इस प्रकार, यह पूरी तरह से सामान्य है. कोविड-19 टीका सुरक्षित है.

मुझे टीका पर है पूरा भरोसा
देवमुनि कुंवर, गड़खा बाजार, सारण ने कहा कि अभी तो आम आदमी को कोविड का टीका नहीं लग रहा है, लेकिन जब मेरी बारी आयेगी तो मैं कोविड-19 का टीका लगवाने के लिए तैयार हूं. इसके लिए अपने परिवार के लोगों को भी प्रेरित करूंगी, क्योंकि हमारे देश के वैज्ञानिकों व कोविड वैक्सीन पर पूरा भरोसा है.

मेरे पति ने ली लिया वैक्सीन, मैं भी तैयार
बिन्दिया सिंह सोनी, गृहणी, उत्तरी दहियांवा, छपरा ने कहा कि मेरे पति स्वास्थ्यकर्मी हैं और उन्होंने उन्होने कोविड-19 की का वैक्सीन ली लिया है. वैक्सीन लेने के बाद उन्हें किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हुई. इसलिए मुझे भी वैक्सीन पर पूरा भरोसा है. जब मेरी बारी आयेगी तो मैं जरूर कोविड-19 की का वैक्सीन लगवाऊंगी.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें