परिवार नियोजन व संस्थागत प्रसव के प्रति समुदाय को जागरूक करेंगे मुखिया व विकास मित्र

परिवार नियोजन व संस्थागत प्रसव के प्रति समुदाय को जागरूक करेंगे मुखिया व विकास मित्र

Chhapra: जिले में परिवार नियोजन कार्यक्रम को बढ़ावा देने के लिए संचार अभियान की शुरूआत की गयी। तीन माह तक चलने वाले इस अभियान में केयर इंडिया के द्वारा सहयोग किया जा रहा है। जिसके तहत समुदायस्तर पर विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में शुक्रवार को सदर प्रखंड के पीएचसी में प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी की अध्यक्षता में अभिसरण समिति की बैठक की गयी। बैठक में क्षेत्र के मुखिया, वार्ड सदस्य, जीविका एवं आईसीडीएस कर्मी व विकास मित्र शामिल थे।

बैठक के दौरान केयर इंडिया के परिवार नियोजन समन्वयक प्रेमा कुमारी ने अपील करते हुए कहा इस अभियान को सफल बनाने में सभी की सहभागिता बेहद जरूरी है। समुदाय को जागरूक करने में मुखिया व विकास मित्र महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते है। जिसमें सभी मुखिया व विकास मित्रों ने कहा कि वह समुदाय को परिवार नियोजन व संस्थागत प्रसव के प्रति जागरूक करेंगे। इसके लिए समुदाय स्तर पर मुखिया व विकास मित्र के द्वारा बैठक की जायेगी। जिसमें परिवार नियोजन के फायदों के बारे में जानकारी दी जायेगी तथा अधिक से अधिक लोगों को इस अभियान में शामिल होने के लिए जागरूक किया जायेगा। परिवार नियोजन को बढ़ावा देने व आम जनमानस को जागरूक करने के उद्देश्य से ई रिक्शा के माध्यम से प्रचार-प्रसार भी किया जा रहा है। प्रजनन दर एवं जनसंख्या स्थिरीकरण के लिए मिशन परिवार विकास अभियान चलाया जा रहा है। मिशन परिवार विकास को सफल बनाने में सभी विभागों का आपसी समन्वय होना आवश्यक है।

पुरुषों की भागीदारी पर अधिक बल:

केयर इंडिया के परिवार नियोजन समन्वयक प्रेमा कुमारी ने बताया आमजन में जागरूकता लाने के लिए सही उम्र में शादी, शादी के कम से कम दो साल के बाद पहला बच्चा, दो बच्चों में कम से कम तीन साल का अंतर एवं प्रसव पश्चात या गर्भपात पश्चात परिवार नियोजन के स्थायी एवं अस्थायी साधान एवं परिवार कल्याण ऑपरेशन में पुरुषों की भागीदारी पर अधिक बल दिया जाएगा। साथ ही इस दौरान परिवार कल्याण कार्यक्रम अन्तर्गत उपलब्ध अस्थायी एवं स्थायी उपायों के बारे में भी जानकारी दी जाएगी। बैठक में प्रभारी चिकित्सा पदाधिकी डॉ. एसएस प्रसाद, बीएचएम, केयर इंडिया के परिवार नियोजन समन्वयक प्रेमा कुमारी, बीएम अमितेश कुमार समेत अन्य शामिल थे।

इन बिन्दुओं पर किया जायेगा जागरूक:

• विवाह के सही उम्र, लड़के के 21 एंव लड़की की 18 वर्ष
• शादी के बाद कम से कम दो वर्ष बाद पहला बच्चा
• पहले एंव दूसरे बच्चे में कम से कम तीन साल का अंतराल
• छोटा परिवार एंव समिति परिवार के लाभ
• परिवार नियोजन के स्थाई एंव अस्थाई साधन के बारे में जानकारी

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें