घर-घर जाकर कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जागरूक करेंगी आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका

घर-घर जाकर कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जागरूक करेंगी आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका

Chhapra:  जिले में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग अलर्ट है। इससे बचाव के लिए जागरूकता अभियान जोर-शोर से चलाया जा रहा है। साथ ही कोविड टीकाकरण अभियान भी तेज हो गया है। इसी कड़ी में अब आईसीडीएस भी सहयोग करेगा. जन-समुदाय को जागरूक करने के लिए आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका गांव में गृह भ्रमण कर लोगों को बचाव के प्रति जागरूक करेंगी। इसको लेकर आईसीडीएस निदेशालय के निदेशक ने पत्र जारी कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिया है।

जारी पत्र में कहा गया है कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए समुदाय में जागरूकता फैलाना तथा आईसीडीएस के सभी छह सेवाओ को को जनसमुदाय तक पहुंचाया जाना है। इस अभियान का निरीक्षण जिला प्रोग्राम पदाधिकारी व बाल विकास परियोजना पदाधिकारी एवं महिल सुपरवाइजरों के साथ किया जायेगा। वर्तमान में आंगनबाड़ी केंद्रों के बंद रहने के स्थिति में केंद्रो द्वारा दी जाने वाली सभी सेवाएं लाभार्थियों के बीच जाकर उपलब्ध करायी जा रही है। निरीक्षण का उद्देश्य पोषाहार, सुधा दूध, टीकाकरण, स्कूल पूर्व शिक्षा रेफरल सेवा आदि की उपलब्धता की जानकारी ली जानी है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, पोषण ट्रैकर एवं निकटतम प्राथमिक विद्यालय एवं जन वितरण प्रणाली केंद्र तथा आंगनबाड़ी केंद्रों के टैग् करने कार्यो का अनुश्रवण किया जायेगा।

घर-घर जाकर करेंगी जागरूक:

आंगनबाड़ी सेविका व सहायिका स्वास्थ्य विभाग के आशा कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर यह अभियान चलाएंगी। ताकि आम लोगों में कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। पुरुषों और महिलाओं से अपील करेंगी कि वह घर से निकलते वक्त मास्क लगाकर ही निकले। बिना मास्क लगाए बाहर जाने पर जुर्माने का प्रावधान किया गया है। मास्क लगाने से संक्रमण फैलने का खतरा कम रहता है। ऐसे में सभी को मास्क लगाना अनिवार्य है। इसके साथ ही लोगों से यह अपील करेंगी कि कोरोना का लक्षण दिखने पर चिकित्सको से संपर्क करें। कोरोना का जांच नि:शुल्क हर स्वास्थ्य केंद्रों पर किया जा रहा है।

अपनों की जान की रक्षा के लिए अनिवार्य रूप से कोरोना के नियमों का पालन करें:

आईसीडीएस के डीपीओ बन्दना पांडेय ने कहा कोरोना का संक्रमण के मामले एक बार फिर से बढने लगे हैं. ऐसे में जरूरी है कि लोग अपनी और अपनों की जान की रक्षा के लिए अनिवार्य रूप से कोरोना के नियमों का पालन करें। कोरोना से बचने के लिए टीकाकरण कराना बेहद जरूरी है। ऐसे में 45 वर्ष की आयु से अधिक के लोगों को चाहिए कि वह सामुदायिक केंद्रों और सरकारी अस्पतालों में जाकर नि:शुल्क टीका लगवाएं। टीका लगवाने के लिए आरोग्य सेतु एप या कोविड पोर्टल पर पंजीकरण कराना जरूरी है। इसके अलावा यदि कोई बिना पंजीकरण के टीका लगवाना चाहता है तो उसे अपनी फोटो युक्त आईडी लेकर केंद्र पर जाना होगा।

कोरोना को लेकर इन संदेशों की देगी जानकारी:
• अपने हाथों को साबुन और पानी से बार-बार धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड वाश, सेनेटाइजर का उपयोग करें।
• खांसने, छींकने, खाना पकाने से पहले, पकाने के दौरान एवं बाद में, खाना खाने से पहले एवं शौचालय के बाद एवं जानवरों की देखभाल के बाद हाथों को साबुन एवं पानी से अच्छी तरह सा़फ करें
• छींकते एवं खांसते समय अपना मुँह ढककर रखने, अपनी आँखों, नाक और मुँह को बार-बार छूने से बचें।
• अगर किसी व्यक्ति को खांसी या बुखार हो तो निकट सम्पर्क में जाने से बचें
• किसी बड़े समारोह एवं आयोजन में भाग लेने से बचें।
• व्यक्तिगत स्वच्छता के साथ-साथ सार्वजनिक स्थलों की सा़फ-सफाई हेतु समुदाय को जागरूक किया जाए.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें