किशोर कुमार: निर्देशन, अभिनय और गायन में अभिनव प्रयोग करने वाले हरदिल अजीज फनकार

किशोर कुमार: निर्देशन, अभिनय और गायन में अभिनव प्रयोग करने वाले हरदिल अजीज फनकार

निर्देशन, अभिनय और गायन में अभिनव प्रयोग करने वाले चुलबुले और हरदिल अजीज फनकार किशोर कुमार का जन्म 04 अगस्त 1929 को खंडवा (मध्य प्रदेश) में हुआ था। उन्हें हिन्दी सिनेमा में तमाम तरह के किरदारों को बखूबी निभाने के लिए भी जाना जाता है। उनके गायन की शैली और कॉमेडी को लोग आज भी याद करते हैं।

देश की पहली कॉमेडी फिल्म ‘चलती का नाम गाड़ी’ में किशोर कुमार ने अपने दोनों भाइयों अशोक कुमार और अनूप कुमार के साथ हास्य अभिनय के ऐसे आयाम स्थापित किए, जो आज भी मील का पत्थर हैं। हास्य फिल्मों की बात हो तो इस फिल्म को बेहतरीन फिल्मों में शुमार किया जाता है।

किशोर कुमार का असली नाम आभास कुमार गांगुली था। धनी परिवार में जन्मे किशोर कुमार का बचपन से एक ही सपना था। वह अपने बड़े भाई अशोक कुमार से ज्यादा पैसा कमाना चाहते थे। किशोर चार भाई-बहनों अशोक कुमार, सती देवी, अनूप कुमार में सबसे छोटे थे।

70 और 80 के दशक में किशोर कुमार सबसे महंगे सिंगर थे। खासकर राजेश खन्ना और अमिताभ बच्चन के लिए उनकी आवाज बेहद पसंद की जाती थी। राजेश खन्ना को सुपरस्टार बनाने में किशोर का बड़ा योगदान माना जाता है। हिंदी सिनेमा में कई गायक आए और गए लेकिन किशोर कुमार की आवाज का जादू आज भी बरकरार है। उनका निधन 13 अक्टूबर 1987 में हुआ था।

0Shares
[sharethis-inline-buttons]

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें