बर्थडे स्पेशल 10 अक्टूबर: आज भी कायम है रेखा की खूबसूरती और अदाओं का जलवा

बर्थडे स्पेशल 10 अक्टूबर: आज भी कायम है रेखा की खूबसूरती और अदाओं का जलवा

बॉलीवुड की सदाबहार अभिनेत्री रेखा अभिनय जगत का एक ऐसा नाम है, जिनकी खूबसूरती का हर कोई दीवाना है। रेखा का जन्म 10 अक्टूबर, 1954 को मद्रास में हुआ था। उनके पिता जेमिनी गणेशन तमिल फिल्मों के जाने -माने अभिनता और मां पुष्पावल्ली अभिनेत्री थीं। बॉलीवुड में अपनी खूबसूरती, दिलकश अदाओं और अभिनय के लिए मशहूर रेखा का पूरा नाम भानुरेखा गणेशन है। रेखा के माता-पिता ने छुपकर शादी की थी और दोनों अलग-अलग ही रहते थे। रेखा के पिता ने कभी भी रेखा को अपनी पुत्री नहीं माना,जिसके वजह रेखा हमेशा ही पिता के प्यार से वंचित रही। रेखा ने अपनी शुरुआती पढ़ाई चर्च पार्क कॉन्वेंट स्कूल से की,लेकिन परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण रेखा को बीच में ही अपनी पढ़ाई छोड़नी पड़ी। इसके बाद रेखा ने भी अपने माता-पिता की तरह ही अभिनय जगत में कदम रखा और बतौर बाल कलाकार तेलुगु फिल्म ‘रंगुला रत्नम’ से अपनी करियर की शुरुआत की। लेकिन इस दौरान रेखा को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। कई लोग रेखा को बदसूरत कहकर काम देने से मना कर देते थे,लेकिन रेखा ने कभी हार नहीं मानी। साल 1970 में रेखा ने हिंदी फिल्म ‘सावन भादो’ से बॉलीवुड में डेब्यू किया। इसके बाद रेखा कई फिल्मों में अभिनय करती नजर आईं और उन्होंने अपने शानदार अभिनय से यह साबित किया कि वह फिल्म में हर तरह के किरदार को बेहतरीन तरीके से निभाने में सक्षम हैं।

समय के साथ रेखा अपनी खूबसूरती , अदाओं, मेहनत, संघर्ष, लगन और अभिनय से दर्शकों के दिलों पे इस कदर छाई कि हर कोई उनका मुरीद हो गया। रेखा ने अपने पूरे करियर में 180 से भी ज्यादा फिल्मों में काम किया जिसमें जमीन आसमान, नमक हराम, नागिन, आप की खातिर, खून-पसीना, खूबसूरत, उमराओ जान, सिलसिला, लज्जा, दिल है तुम्हारा , कोई मिल गया, शमिताभ आदि शामिल हैं। फिल्मों में अभिनय के अलावा रेखा ने कुछ फिल्मों में गाने भी गाये हैं,जिसमें उनकी फिल्म खूबसूरत का गाना ‘सारे नियम तोड़ दो’ भी शामिल हैं।

रेखा को फिल्मों में उनके असीम योगदान के लिए साल 2010 में भारत सरकार की ओर से पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया । इसके अलावा रेखा को एक राष्ट्रीय पुरस्कार और तीन फिल्मफेयर पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है। फिल्मों के अलावा रेखा काफी समय तक राजनीति में भी सक्रिय रहीं।

रेखा की निजी जिंदगी की बात करें तो साल 1990 में उन्होंने उद्योगपति मुकेश अग्रवाल शादी की,लेकिन अवसाद से ग्रस्त मुकेश ने शादी के 6 महीने बाद ही सुसाइड कर लिया। इसके बाद रेखा अकेले ही जीवन का सफर तय कर रही हैं। रेखा अब अभिनय जगत से दूर हैं, लेकिन आज भी उनकी खूबसूरती और अदाओं का जलवा कायम है। उन्हें कई बार रियलिटी शो में बतौर गेस्ट भी देखा गया है। रेखा के चाहने वालों की संख्या आज भी लाखों में हैं।

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें