लॉ के क्षेत्र में करियर की संभावनाएं विषय पर सेमिनार का हुआ आयोजन

लॉ के क्षेत्र में करियर की संभावनाएं विषय पर सेमिनार का हुआ आयोजन

Chhapra: “लॉ के क्षेत्र में करियर की संभावनाएं ” विषय पर एक सेमिनार का आयोजन किया गया. कार्यक्रम की शुभारंभ दीप प्रज्वलित मुख्य अतिथि नारायण स्कूल ऑफ लॉ जमुहार, सासाराम, रोहतास के डायरेक्टर डॉ राकेश वर्म , एस डी एस कॉलेज के प्राचार्य अरुण कुमार सिंह, गोपाल नारायण सिंह, यूनिवर्सिटी लॉ कॉलेज के प्रो शिमल सिंह और अन्य विशेषज्ञों ने संबोधित किया.

अपने संबोधन में पटना लॉ कॉलेज के पूर्व प्राचार्य, वर्तमान में गोपाल नारायण सिंह लॉ कॉलेज के प्राचार्य डॉ राकेश वर्मा ने बताया कि लॉ के विभिन्न कोर्सेज के प्रति लोगों में पर्याप्त जागरूकता बिहार के लोगों में नहीं पाई जाती है. जबकि लॉ में ऐसे कोर्स हैं जिन्हें पूरा करने के बाद कारपोरेट जगत में तो शानदार नौकरी प्राप्त की जा सकती है साथ मे सरकारी क्षेत्रों में भी नौकरियों के अपार संभावनाओं के द्वार खुल जाते हैं.

B.A .LLB. और B.B.A . LLB. ऐसे कोर्सेज हैं जिन्हें करने के बाद कारपोरेट और सरकारी क्षेत्रों में अच्छे वेतनमान पर नौकरी मिलती है साथ ही समाज में काफी प्रतिष्ठा भी प्राप्त होती है. bba llb करने के बाद कंपनी में एचआर मैनेजर , लॉ ऑफिसर ,बैंकों में लीगल प्रोबेशनरी ऑफिस , मीडिया में लॉ रिपोर्टर बना जा सकता है.

प्राचार्य अरुण कुमार सिंह ने सेमिनार को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज लॉ की अनन्त बिकाश के क्षेत्र में है आज सरकारी क्षेत्र में अटॉर्नी, बैंकिंगओंबड्समैन, लेबर लॉ कंपनी कंप्लायंस ऑफीसर, ट्रेडमार्क एंड कॉपीराइट एटर्नी, लेबर ऑफिसर ,रिसर्च असिस्टेंट, ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट ,असिस्टेंट पब्लिक प्रॉसिक्यूटर बना जा सकता है. उसी तरीके से B.A. LLB.करने के बाद भी पब्लिक प्रॉसिक्यूटर बना जा सकता है । LLM करने के बाद विश्वविद्यालय में या लॉ कॉलेज में लेक्चरर भी बना जा सकता है.

गोपाल नारायण सिंह लॉ कॉलेज के प्रोफेसर शिमल कु सिंह ने कहा कि गोपाल नारायण यूनिवर्सिटी में लाँ में वहां लाभ यह है कि वहां दो एडवांस इंक्रीमेंट के साथ की नियुक्ति होती है. गोपाल नारायण सिंह यूनिवर्सिटी के प्रशाशक मिथलेश कु सिंह ने कहा कि गोपाल नारायण सिंह विश्वविद्यालय का विधि संकाय अपनी उत्कृष्ट शैक्षणिक स्तर और सुविधाओं के कारण बिहार के अंदर विधि के अध्ययन हेतु एक बेहतर विकल्प उपलब्ध कराता है. यह संस्थान अपने शैक्षणिक स्तर और सुविधाओं के मामले में देश के किसी भी उत्कृष्ट विधि संस्थान से कम नहीं है.  इस संस्थान के चांसलर राज्यसभा सांसद गोपाल नारायण सिंह का यह सपना है कि बिहार उच्च शिक्षा और रोजगार रोजगार परक शिक्षा के क्षेत्र में तेजी से आगे बढ़े. उन्होंने अपनी इसी सोच को इस विश्वविद्यालय की स्थापना कर मूर्त रूप दिया. उनका यह प्रयास रहता है कि संस्थान में वह सभी सुविधाएं हो जो किसी भी उत्कृष्ट शिक्षण संस्थान में होती है. सभी लोगो का स्वागत मनीष कु सिंह एवं अभिमन्यु प्रताप सिंह द्वारा किया गया, मंच का संचालन धर्मेन्द्र। सिंह चौहान ने किया. सेमिनार में युवाओं में चढ़ बढ़ कर हिस्सा लिया. कार्यक्रम में अनिल सिंह, मदन कु सिंह, बबलू बाबा, संजय तिवारी, सुशील कु आदि लोग थे.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें