4 से 26 जुलाई तक होगा नवप्रशिक्षित शिक्षकों के वेतन पुनरीक्षण और सेवा पुस्तिका का अद्यतन कार्य, यहाँ देखें तिथिवार सूची

4 से 26 जुलाई तक होगा नवप्रशिक्षित शिक्षकों के वेतन पुनरीक्षण और सेवा पुस्तिका का अद्यतन कार्य, यहाँ देखें तिथिवार सूची

Chhapra: सरकारी विद्यालय में कार्यरत नवप्रशिक्षित शिक्षकों के वेतन पुनरीक्षण तथा सेवा पुस्तिका अद्यतन को लेकर एक बार फिर जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना सुनील कुमार गुप्ता ने पत्र जारी किया है.

जारी पत्र के अनुसार सेवा पुस्तिका के अधतन का कार्य 4 जुलाई से लेकर 26 जुलाई तक प्रखंड वार किया जाएगा.

जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना सुनील गुप्ता द्वारा जारी पत्र में कहा गया है कि D.El.Ed नियमित एवं ओडीएल समूह ए बी सी डी के नवप्रशिक्षित शिक्षकों के वेतन पुनरीक्षण का कार्य एवं सेवा पुस्तिका अद्यतन को लेकर पूर्व में 15 मई तक सभी प्रखंड शिक्षा पदाधिकारियों से प्रति हस्ताक्षरित सेवा पुस्तिका की मांग की गई थी, लेकिन जिला कार्यालय में सेवा पुस्तिका नहीं आने के कारण एक बार फिर प्रखंडवार तिथि का निर्धारण करते हुए 4 जुलाई से 26 जुलाई तक सेवा पुस्तिका अद्यतन एवं वेतन पुनरीक्षण का कार्य किया जाना है.

इसे भी पढ़ें:आपातकाल लोकतंत्र का काला अध्याय: अशोक सिंह

डीपीओ ने सभी शिक्षा पदाधिकारियों को निर्देश दिया है कि वह अपने प्रखंड के नवप्रशिक्षित शिक्षकों के वेतन पुनरीक्षण एवं सेवा पुस्तिका का अद्यतन कर 30 जून तक जिला कार्यालय को उपलब्ध करा दें. जिससे कि तिथिवार शिक्षकों की सेवा पुस्तिका एवं वेतन पुनरीक्षण का कार्य किया जा सके.

उधर इस मामले में परिवर्तनकारी शिक्षक संघ के अध्यक्ष समरेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि नव प्रशिक्षित शिक्षकों के वेतन पुनरीक्षण को लेकर पूर्व में संघ के पहल पर जिला कार्यक्रम पदाधिकारी द्वारा प्रखंड वार तिथि का निर्धारण किया गया था, लेकिन निर्धारित तिथि पर कार्य नहीं हो सका. पुनः एक बार फिर संघ के पहल पर डीपीओ द्वारा इस कार्य के लिए प्रखंड वार तिथि का निर्धारण 4 जुलाई से 26 जुलाई तक किया गया है.

निर्धारित तिथि के अनुसार एक-एक दिन 20 प्रखंड के नव प्रशिक्षित शिक्षकों के सेवा पुस्तिका एवं वेतन पुनरीक्षण के अद्यतन का कार्य किया जाएगा.

श्री सिंह ने सभी शिक्षा पदाधिकारी एवं शिक्षकों से आग्रह किया है, कि वह अपने सेवा पुस्तिका के अद्यतन एवं वेतन पुनरीक्षण का कार्य समय करा ले. श्री सिंह ने कहा कि इस कार्य से शिक्षकों को प्रतिमाह 6 से 7000 रुपए का आर्थिक लाभ होगा. जब तक यह कार्य संपन्न नहीं होता तब तक वह इस लाभ से वंचित रहेंगे. जिससे प्रतिमाह उन्हें 6 से 7000 रुपये की हानि होगी.

जिसमें मुख्य रुप से जिला सचिव संजय राय, जिला प्रवक्ता संजय यादव, हवलदार माझी, अनुज यादव, निजाम अहमद, विनोद राय, लल्लन राय, उमेश राय, राहुल रंजन, रंजीत सिंह, संतोष कुमार, अनिल दास, स्वामी नाथ राय, राजेश कौशिक, राजू सिंह, अशोक राय, सानंद सारी, सुनील सिंह, अजय सिंह आदि शिक्षक उपस्थित थे.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.