शोध कार्य में तेजी से छात्रों को मिल रहा प्रोत्साहन: कुलानुशासक

शोध कार्य में तेजी से छात्रों को मिल रहा प्रोत्साहन: कुलानुशासक

छपरा: जय प्रकाश विश्वविद्यालय में शोध कार्य की धीमी गति का विश्वविद्यालय के कुलानुशासक ने खंडन किया है. उनका कहना है कि जय प्रकाश विश्वविद्यालय शोध करने वाले छात्रों के प्रति तत्पर रहता है यही वजह है कि पिछले दो दीक्षांत समारोह में शोध कार्य के पश्चात विभिन्न विषयों में 130 से अधिक छात्रों ने डिग्रियां हासिल की है.

विश्वविद्यालय के पीआरओ डॉ उमाशंकर यादव ने बुधवार को विश्वविद्यालय परिसर में आयोजित प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा की विश्वविद्यालय छात्र एवं उनकी शिक्षा के प्रति संवेदनशील है. विगत कुछ दिनों पूर्व विश्वविद्यालय की कार्यप्रणाली किन्ही कारणों से धीमी हो गयी थी लेकिन अब स्थिति बदली है और बेहतर कार्य हो रहे है. विश्वविद्यालय में 75 शोध कार्य से सम्बंधित आवेदन आये है. इनमे से 16 आवेदकों के वाइवा हो गए है. वही 49 मामलों में एक्सटर्नल बहाल हुए है. जिस गति से शोध कार्य करने वाले छात्रों के प्रति विश्वविद्यालय गंभीर है. इस कार्य से छात्रों को बल मिल रहा है और वे शोध कार्य के लिए प्रोतसाहित हो रहे है.

0Shares
Prev 1 of 215 Next
Prev 1 of 215 Next

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें