नामांकन एवं परीक्षा प्रपत्र भरने में मनमाने तरीके से शुल्क लिए जाने की RSA ने की शिकायत

नामांकन एवं परीक्षा प्रपत्र भरने में मनमाने तरीके से शुल्क लिए जाने की RSA ने की शिकायत

Chhapra: जयप्रकाश विश्वविद्यालय के महाविद्यालयो के लड़कियों से मनमाने ढंग से नामांकन शुल्क तथा परीक्षा शुल्क गरीब छात्र-छात्राओं से वसूली किया जा रहा है. जबकि राज्य सरकार का स्पष्ट निर्देश है कि लड़कियों को प्राथमिक शिक्षा से लेकर उच्च शिक्षा तक निशुल्क शिक्षा देना है. इस आशय की जानकारी छात्र संगठन आरएसए के विवेक कुमार विजय ने जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपति को दी है. 

इसे भी पढ़ें: जयप्रकाश विश्वविद्यालय में हुई परीक्षा मंडल की बैठक, रिजल्ट जल्द देने पर हुई चर्चा

 

संगठन की ओर से कुलपति को सौपे गए ज्ञापन में बताया गया है कि अभी तक परीक्षा प्रपत्र भरने हेतु विलंब शुल्क छात्रों से नहीं लिया जाता था, लेकिन इस बार से स्नातक द्वितीय खंड सत्र 2018- 21 से ₹500 विलंब शुल्क लिया जा रहा है. जो कहीं से उचित नहीं है. एफिलिएटेड  महाविद्यालयों में छात्राओं से भी नामांकन शुल्क निर्धारित शुल्क से अत्याधिक लिया जा रहा है. एससी एसटी छात्र-छात्राओं एवं सभी वर्गों के छात्राओं से जो ₹450 लिया जा रहा है.

संगठन ने उसको भी तुरंत वापस लेने की मांग की है. इस अवसर पर उज्ज्वल कुमार सिंह, परमजीत कुमार, परमेन्द्र कुमार, मनीष, गोलू कुमार आदि उपस्थित थे.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें