सेन्ट्रल पब्लिक स्कूल के छात्रों ने इनोवेटिव आईडिया पर आधारित ऑब्स्टकल सेंसर व्हीकल का किया निर्माण

सेन्ट्रल पब्लिक स्कूल के छात्रों ने इनोवेटिव आईडिया पर आधारित ऑब्स्टकल सेंसर व्हीकल का किया निर्माण

Chhapra: सेन्ट्रल पब्लिक स्कूल के छात्रों ने इनोवेटिव आईडिया पर आधारित ऑब्स्टकल सेंसर व्हीकल का निर्माण किया है. छात्रों ने अपने इस निर्माण से लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा है.

शहर के विशेश्वर सेमिनरी इंटर स्कूल में अटल टिंकरिंग लैब की दो दिवसीय कार्यशाला में सेन्ट्रल पब्लिक स्कूल के दो छात्र गौरव पाण्डेय और दिव्यांशु राज ने विज्ञान शिक्षक अनीश कुमार सिंह के नेतृत्व में भाग लेते हुए इनोवेटिव आईडिया पर आधारित ऑब्स्टकल सेंसर व्हीकल का निर्माण कर जिला भर से आये अतिथियों, मेंटर्स और प्रतिभागियों को आश्चर्यचकित कर दिया.

छात्रों की परियोजना की सभी ने तारीफ की है. प्रतियोगिता के अंत मे दोनों छात्र वैज्ञानिकों को मैडल और प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया गया.

विद्यालय की प्रातःकालीन सभा मे विद्यालय के निदेशक और सीपीएस ग्रुप के चेयरमैन डॉ हरेन्द्र सिंह ने दोनों छात्रों को सम्मानित किया और समस्त विद्यार्थियों को इस तरह के कार्यक्रम में सम्मिलित होकर विद्यालय और जिला का नाम रौशन करने की अपील की.

क्या है ऑब्स्टकल सेंसर व्हीकल
ऑब्स्टकल सेंसर व्हीकल से यातायात के साधनों को सुरक्षा मिलेगी. जिससे गाड़ियां आपसी टक्कर से बच सकती है. साथ ही साथ सेना और सस्त्र बालों के बहुत काम आ सकती है. ये ऑब्स्टकल व्हीकल स्वतः दुश्मनों के ठिकानों को खोज सकती है और व्हीकल पर लगे आटोमेटिक हथियारों से दुश्मनों को ढेर कर सकती है. यह नक्सल प्रभावी क्षेत्रों में सड़कों के नीचे छिपे विस्फोटकों को कुछ मीटर पहले ही पता लगा सकती है. जिससे जान माल की हानि से बच जाए सकता है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें