प्रभारी कुलपति को खोजने के लिए रखा गया एक रुपये का इनाम

प्रभारी कुलपति को खोजने के लिए रखा गया एक रुपये का इनाम

मगध विश्वविद्यालय मुख्यालय में गुरुवार को विद्यार्थी परिषद से जुड़े छात्र नेताओं ने पोस्टर चिपका कर एमयू के प्रभारी कुलपति व अन्य पदाधिकारियों को ढूंढ़ने वालों को एक रुपये का इनाम देने की घोषणा की है.

परिषद ने एमयू स्थित प्रशासकीय भवन में कुलपति, कुलसचिव, परीक्षा नियंत्रक, एफओ सहित अन्य पदाधिकारियों के चैंबर के बाहर पोस्टर चिपका कर एमयू मुख्यालय से गायब रहने वाले पदाधिकारियों को ढूंढ़ने वालों को इनाम देने की बात कही है. छात्रों ने पोस्टर के साथ विरोध प्रदर्शन करते हुए कहा कि एमयू के प्रभारी कुलपति सहित तमाम पदाधिकारी प्रभार में हैं. पदाधिकारी एमयू मुख्यालय में नियमित रूप से मौजूद नहीं रहते हैं.

इस कारण छात्रों की समस्याओं का समाधान भी नहीं हो पा रहा है. विश्वविद्यालय दिन व दिन समस्याओं में जकड़ता जा रहा है.और इससे सबसे ज्यादा नुकसान छात्र-छात्राओं का हो रहा है. समय पर परीक्षा के आयोजन के साथ ही परीक्षा परिणाम के प्रकाशन नहीं होने व दो वर्षों के कोर्स को पांच वर्षों में भी पूरा नहीं किये जाने से छात्रों का भविष्य चौपट होते जा रहा है.

यहां संचालित वोकेशनल कोर्सों में कर्ज लेकर पढ़ाई करने वाले छात्र-छात्राओं के सत्र लेट होने से परेशानी बढ़ती जा रही है. छात्रों का रोजगार पाने की उम्र निकलती जा रही है और एमयू प्रशासन इस दिशा में कोई ध्यान नहीं दे रहा है. छात्रों ने राजभवन पर निशाना साधते हुए कहा कि एमयू के छात्रों के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है. इसे बर्दास्त नहीं किया जायेगा और जल्द ही एक व्यापक आंदोलन शुरू किया जायेगा.

विद्यार्थी परिषद के एमयू संयोजक सूरज सिंह ने बताया कि राजभवन द्वारा एमयू को प्रभारी पदाधिकारियों के भरोसे छोड़ दिया है. इससे छात्रों का भविष्य चौपट हो रहा है. प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सुबोध कुमार पाठक ने कहा कि विश्वविद्यालय में भ्रष्टाचार का बोलबाला है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें