डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की पूण्यतिथि: अपने मिशन में कामयाब होने के लिए, आपको अपने लक्ष्य के प्रति एकचित्त निष्ठावान होना पड़ेगा

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की पूण्यतिथि: अपने मिशन में कामयाब होने के लिए, आपको अपने लक्ष्य के प्रति एकचित्त निष्ठावान होना पड़ेगा

भारत के पूर्व राष्ट्रपति, भारत रत्न, मिसाइल मैन डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की आज पूण्यतिथि है. डॉ कलम ने आज ही के दिन 27 जुलाई 2015 को शिलांग के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली थी. डॉ कलाम का जन्म 15 अक्टूबर को 1931 को तमिलनाडु के रामेश्वरम में हुआ था. शिलांग के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट में एक व्याख्यान देने के दौरान उन्हें दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया था. वह देश के 11वें राष्ट्रपति रहे. डॉ कलम ने डीआरडीओ और इसरो में अपनी सेवाएँ दी. उन्होंने इन संस्थानों को ऊँचाइयों पर पहुँचाया. पोखरण के परमाणु परिक्षण से देश को परमाणु शक्ति संपन्न राष्ट्र बनाया. उन्होंने विंग्स ऑफ फायर, इंडिया 2020, मिशन इंडिया जैसी कई किताबें भी लिखी.

डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के विचार को जीवन में उतारकर साधारण व्यक्ति भी खास बन सकता है. डॉ कलाम आज भी करोड़ों भारतवासियों के दिलों में है और वे हम सभी के लिए प्रेरणा और आदर्श है.

आइए जानते हैं डॉ. कलाम के कुछ अनमोल विचार:

1. सपने वो नहीँ जो हम सोते हुये देखते है, सपने वो है जो हमे सोने नहीँ देते.

2. आकाश की तरफ देखिये, हम अकेले नहीं हैं, सारा ब्रह्माण्ड हमारे लिए अनुकूल है और जो सपने देखते हैं और मेहनत करते हैं उन्हें प्रतिफल देने की साजिश करता है.

3. मैं हमेशा इस बात को स्वीकार करने के लिए तैयार था कि मैं कुछ चीजें नहीं बदल सकता.

4. आप अपना भविष्य नहीं बदल सकते पर आप अपनी आदते बदल सकते है और निश्चित रूप से आपकी आदते आपका भविष्य बदल देगी

5. महान सपने देखने वालों के महान सपने हमेशा पूरे होते हैं.

6. इंसान को कठिनाइयों की आवश्यकता होती है, क्योंकि सफलता का आनंद उठाने कि लिए ये ज़रूरी हैं.

7. अपने मिशन में कामयाब होने के लिए, आपको अपने लक्ष्य के प्रति एकचित्त निष्ठावान होना पड़ेगा.

8. आइये हम अपने आज का बलिदान कर दें ताकि हमारे बच्चों का कल बेहतर हो सके.

9. इंतज़ार करने वालो को सिर्फ उतना ही मिलता है, जितना कोशिश करने वाले छोड़ देते है.

10. देश का सबसे अच्छा दिमाग, क्लास रूम की आखरी बेंचो पर मिल सकता है.

11. अपनी पहली सफलता के बाद विश्राम मत करो क्योकि अगर आप दूसरी बार में असफल हो गए तो बहुत से होंठ यह कहने के इंतज़ार में होंगे की आपकी पहली सफलता केवल एक तुक्का थी.

12. किसकी को हराना बहुत आसान है लेकिन किसी को जीतना बहुत मुश्किल.

13. यदि आप अपनी ड्यूटी को सैल्यूट करोगे तो आपको किसी भी व्यक्ति को सैल्यूट करने की जरूरत नहीं पड़ेगी लेकिन यदि आप अपनी ड्यूटी को पोल्यूट करेंगे तो आपको हर किसी को सैल्यूट करना पडेगा.

14. जब हमारे हस्ताक्षर, ऑटोग्राफ में बदल जाए तो यह सफलता की निशानी है.

15. सफलता की कहानियां मत पढ़ो उससे आपको केवल एक सन्देश मिलेगा. असफलता की कहानियां पढ़ो उससे आपको सफल होने के कुछ आइडियाज (विचार) मिलेंगे.

16. कला रंग भावनात्मक रूप से बुरा होता है लेकिन हर ब्लैक बोर्ड विधार्थियों की जिंदगी ब्राइट बनाता है.

17. शिखर पर पहुँचने के लिए सामर्थ्य चाहिए। फिर वो चाहे माउंट एवेरेस्ट का शिखर हो या आपके केरियर का.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें