चचेरे चाचा और बहनोई ने मिलकर बच्चे का अपहरण कर बेचा, पुलिस ने 24 घंटे के अंदर किया सकुशल बरामद

चचेरे चाचा और बहनोई ने मिलकर बच्चे का अपहरण कर बेचा, पुलिस ने 24 घंटे के अंदर किया सकुशल बरामद

Chhapra: रिश्ते को कलंकित करने वाले एक मामले में चचेरे चाचा और बहनोई ने मिलकर अपने ही घर के चिराग का अपहरण कर उसे दूसरे जिले में ले जाकर 40 हज़ार रुपये में बेचने का मामला प्रकाश में आया है.

मामला सारण जिले के दरियापुर थानाक्षेत्र का है. जहां नगवां गांव निवासी दीपक कुमार राय ने 29 नवम्बर को अपने छह वर्षीय पुत्र रंजीत कुमार के गायब होने की प्राथमिकी दर्ज (394/18) कराई थी.

पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर त्वरित कार्रवाई करते हुए जांच शुरू की गई. जिसके बाद अपहृत बच्चे  को वैशाली जिले के तेसरिया दियर से बरामद कर लिया. पुलिस ने इस मामले में 3 लोगों को भी गिरफ्तार किया है.

पुलिस अधीक्षक हरकिशोर राय ने प्रेसवार्ता में बताया कि 29 नवम्बर को दरियापुर थाना में मामला दर्ज किया गया था. जिसके बाद थानाध्यक्ष अनुज कुमार सिंह के नेतृत्व में टीम का गठन कर जांच शुरू की गई. जांच में तथ्य सामने आया कि अपहृत बच्चे के पिता के चचेरे भाई कुंदन राय और बदामाद राजेश राय ने मिलकर बच्चे को बहला फुसलाकर ले गए तथा वैशाली जिले के तेसरिया दियर में 40 हज़ार रुपये में सुधीर महतो के हाथ बेच दिया.
जानकारी मिलते ही सारण पुलिस के द्वारा छापेमारी की गई और अपहृत बच्चे को तेसरिया दियर से सुधीर महतो के घर से सकुशल बरामद कर लिया गया. वही इस कांड में संलिप्त दरियापुर थाना क्षेत्र निवासी कुंदन कुमार, दिघवारा थाना क्षेत्र निवासी राजेश राय और वैशाली जिले के गंगाब्रिज थानाक्षेत्र के तेसरिया दियर निवासी सुधीर महतो को गिरफ्तार कर लिया है.

सारण पुलिस की त्वरित कार्रवाई से बच्चे को 24 घंटे के अंदर सकुशल बरामद किया गया.

देखें VIDEO

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें