अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने वाले सहित ओएलएक्स पर आर्मी अधिकारी बताकर ठगी करने वाले चार ठग गिरफ्तार

अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने वाले सहित ओएलएक्स पर आर्मी अधिकारी बताकर ठगी करने वाले चार ठग गिरफ्तार

जयपुर पुलिस कमिश्नरेट के स्पेशल ऑफेंसेस एंड साइबर क्राइम थाना पुलिस ने कार्रवाई करते हुए विभिन्न सोशल नेटवर्किंग साइट जैसे फेसबुक, इंस्टाग्राम, मैसेंजर, टेलीग्राम आदि से लोगों के मोबाइल नंबर लेकर उन्हें व्हाट्सएप वीडियो कॉल कर स्क्रीन रिकॉर्डर के जरिए अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने वाले सहित ओएलएक्स पर आर्मी अधिकारी बताकर ऑनलाइन साइबर ठगी की वारदात को अंजाम देने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए चार शातिर ठगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस को आरोपितों के पास से छह मोबाइल और मोबाइल पर मिले डाटा में बहुत से लोगों के आधार कार्ड और पेन सहित अन्य दस्तावेज जब्त किए है। फिलहाल आरोपितों से पूछताछ की जा रही है।

अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर अजय पाल लांबा ने बताया कि जयपुर पुलिस कमिश्नरेट के स्पेशल ऑफेंसेस एंड साइबर क्राइम थाना पुलिस ने कारवाई करते हुए विभिन्न सोशल नेटवर्किंग साइट जैसे फेसबुक, इंस्टाग्राम, मैसेंजर, टेलीग्राम आदि से लोगों के मोबाइल नंबर लेकर उन्हें व्हाट्सएप वीडियो कॉल कर स्क्रीन रिकॉर्डर के जरिए अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने वाले शातिर आरोपित सरवेज (27) निवासी पहाड़ी जिला भरतपुर हाल खोह नागोरियान को गिरफ्तार किया है।

प्रारंभिक पूछताछ में आरोपित सरवेज से खुलासा हुआ कि वह खुद को महिला बताकर लोगों से अश्लील चैटिंग किया करता है। फिर व्हाट्सअप वीडियो कॉल के जरिए अश्लील वीडियो चला स्क्रीन रिकॉर्ड कर लोगों को ब्लैकमेल करता है। आरोपित खुद को एक नामी चैनल का पत्रकार बता कर पीड़ित से संपर्क कर उसकी सामाजिक प्रतिष्ठा धूमिल करने और पारिवारिक संबंधों को खत्म करने की धमकी देकर मोटी राशि वसूलने का काम किया करता है। आरोपित के साथ गिरोह में और भी लोग शामिल हैं। जिनके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। इसके अलावा ओएलएक्स पर फर्जी विज्ञापन डाल कर अपने आप को आर्मी अधिकारी बताकर सामान बेचने या किराए पर फ्लैट लेने का झांसा देकर लोगों से ऑनलाइन साइबर ठगी की वारदात को अंजाम देने वाले गिरोह के अब्बास(23),मुनफैद मेव (21) और हकमुदीन मेव (26) को गिरफ्तार किया गया है और तीनों ही कैथवाडा जिला भरतपुर के रहने वाले है। पुलिस ने आरोपितों के पास से छह मोबाइल फोन, विभिन्न लोगों के आधार कार्ड, पैन कार्ड व अन्य दस्तावेज बरामद किए हैं। पुलिस की गिरफ्त में आए चारों ही आरोपित बड़ी शातिर है, जो बीते एक साल में सैकड़ों लोगों को अपने ठगी का शिकार बना चुके हैं। फिलहाल पुलिस गिरफ्त में आए चारों आरोपितों से पूछताछ की जा रही है जिसमें कई और वारदातों का खुलासा होने की संभावना है।

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें