दो दिवसीय सांस्कृतिक कार्यशाला का हुआ उद्घाटन

दो दिवसीय सांस्कृतिक कार्यशाला का हुआ उद्घाटन

छपरा: सरस्वती शिशु विद्या मंदिर के तत्वावधान में ‘भारतीय संस्कृति के संरक्षण, संवर्धन एवं उत्थान’ विषयक दो दिवसीय कार्यशाला का उद्घाटन जिला शिक्षा पदाधिकारी अवधेश बिहारी ने दीप प्रज्वलित कर किया.

जिला शिक्षा पदाधिकारी ने इस अवसर पर भारतीय संस्कृति के संवर्धन एवं उसके संरक्षण में विद्या मंदिर के अहम् योगदान की सराहना करते हुए कार्यक्रम के सफलता के लिए विद्यालय प्रबंधन को शुभकामनाएं दी.IMG_20160722_111157 IMG_20160722_111157 saraswati

शिक्षाविद् अमियनाथ चटर्जी ने अध्यक्षीय उद्बोधन में भारतीय संस्कृति के सार्थक पहलुओं को युवाओं तक पहुँचाने की बात कहते हुए, आधुनिकता के इस दौर में संस्कृति के संवर्धन पर जोर दिया. वरीय पत्रकार कृष्णकांत ओझा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि यह दो दिवसीय कार्यशाला छात्र-छात्राओं को भारतीय संस्कृति की सम्पन्नता को बताने और उसे अपनाने का अच्छा माध्यम होगा.

विद्यालय के प्राचार्य रामदयाल शर्मा ने बताया कि यह कार्यशाला भारतीय संस्कृति मंत्रालय द्वारा प्रायोजित है जबकि विद्या भारती शिक्षण संस्थान द्वारा आयोजित है. इस अवसर पर उन्होंने आगंतुक अतिथियों को सम्मान स्वरुप ‘पौधा’ भेंट कर एक नई परम्परा की शुरुआत की.

इस दो दिवसीय कार्यशाला में प्रो. सुधा बाला, सुरेश कुमार सिंह, प्रियंका कुमारी समेत विद्या मंदिर के सभी आचार्य एवं सैकड़ो छात्र-छात्राओं की सहभागिता रही.

संभाग निरीक्षक ललन कुमार झा के प्रयोजन में 600 विद्यार्थी इस कार्यशाला में भाग ले रहे हैं.

0Shares

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें