जिला में सुगम यातायात व्यवस्था को लेकर जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने की बैठक

जिला में सुगम यातायात व्यवस्था को लेकर जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने की बैठक

व्यवसायिक मालवाहक ट्रकों का परिचालन निर्धारित मार्गों से ही हो सुनिश्चित

Chhapra: सारण जिला में यातायात व्यवस्था को सुगम बनाये रखने के उद्देश्य से लगातार पहल की जा रही है।

विगत माह में भी जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा इस सबंध में बैठक की गई थी। इसमें निर्धारित मार्ग/रुट से ही ट्रकों का परिचालन सुनिश्चित करने को लेकर कई महत्वपूर्ण निदेश दिये गये थे।

पुनः जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने पूर्व के निदेशों के अनुपालन की समीक्षा की तथा आगे के लिये महत्वपूर्ण दिशा निदेश दिया। दरियापुर-परसा मार्ग एवं दिघवारा-भेल्दी मार्ग में व्यवसायिक मालवाहक ट्रकों के परिचालन की अनुमति नहीं होगी। इसमें आवश्यक सेवाओं से संबंधित वाहनों को छूट रहेगी। इसके लिये पीरगंज, मटिहान चौक एवं हराजी मोड़ पर बड़े बड़े संकेत चिन्ह लगाने का निदेश दिया गया।

इसमें वैकल्पिक रुट की भी जानकारी रहेगी।इन स्थलों पर आवश्यकतानुसार ड्रॉप गेट, ट्रैफिक ट्रॉली एवं प्रतिनियुक्त पुलिस बल के लिये आवश्यक शेड की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निदेश दिया गया। इसके लिये अतिरिक्त होम गार्ड को भी लगाया जायेगा। सभी ट्रकों का परिचालन राष्ट्रीय उच्च पथों के माध्यम से ही सुनिश्चित किया जायेगा।

मशरख तरैया मोड़ एवं अंबेडकर चौक पर भी ड्रॉप गेट, साइनेज, ट्रॉली एवं शेड की व्यवस्था की जायेगी। सोन्हो से अमनौर एवं सोन्हो से परसा की तरफ भी कोई ट्रक नहीं जायेगा। इन स्थलों पर भी पर्याप्त पुलिस बल/होम गार्ड की प्रतिनियुक्ति अलग अलग पालियों में सुनिश्चित करने को कहा गया।

सभी अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को अपने क्षेत्र अंतर्गत लगातार यातायात रेगुलेशन का निरीक्षण एवं समीक्षा सुनिश्चित करने को कहा गया।

सोनपुर, मढ़ौरा, दरियापुर, परसा एवं नगरा में सड़कों को अतिक्रमण मुक्त कराने हेतु अभियान चलाने का निदेश दिया गया।

निर्माणाधीन छपरा-हाजीपुर फोर लेन सड़क के किनारे बनाये जा रहे ढाबों के जमीन की भी जाँच कर अतिक्रमण हटाने का निदेश दिया गया।

बैठक में जिला परिवहन पदाधिकारी, कार्यपालक अभियंता पथ निर्माण विभाग, पुलिस उपाधीक्षक यातायात, जिला समादेष्टा सहित अन्य पदाधिकारी तथा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी अनुमंडल पदाधिकारी एवं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी जुड़े थे।

0Shares
A valid URL was not provided.