16 मार्च से आयोजित परीक्षा का बहिष्कार करेंगे नियोजित शिक्षक, बीआरसी में होगी तालाबंदी

16 मार्च से आयोजित परीक्षा का बहिष्कार करेंगे नियोजित शिक्षक, बीआरसी में होगी तालाबंदी

Chhapra: नियोजित शिक्षकों की समान काम समान वेतन की मांग को लेकर 25वे दिन भी हड़ताल जारी है. शिक्षको द्वारा स्थानीय नगरपालिका चौक सहित जिले के 20 प्रखंड के बीआरसी केंद्रों पर धरना देते हुए अपनी 7 सूत्री मांगों के खिलाफ आवाज बुलंद की.नगरपालिका चौक पर धरने के संबोधित करते हुए शिक्षक नेता समरेंद्र बहादुर ने कहा कि होली जैसे त्यौहार में शिक्षको की होली फीकी कर सरकार होली खेल रगों है. शिक्षको के साथ सरकार का यह वर्ताव याद रहेगा. उन्होंने कहा कि इस होली पर सभी शिक्षको ने प्रण लिया है कि शिक्षक सरकार की दिवाली भी फीकी कर देंगे. शिक्षक का परिवार, शिक्षक के बच्चें, शिक्षक के माता पिता की होली सुनी करने वाले दमन कुमार अब अपनी जाने की तैयारी शुरू कर दें. श्री सिंह ने कहा कि हमने होली के पूर्व समय रहते सरकार को वार्ता करने की बात कही थी लेकिन हठधर्मी सरकार अपने हठ पर टिकी रही. समय आ गया है जिले के सभी स्तर के सरकारी विद्यालयों में आगामी 16 मार्च से प्रारंभ होने वाली मूल्यांकन परीक्षा प्रारंभ नही होगी इसका हम ऐलान करते है. जिले के सभी 20 प्रखंड में प्रश्न उत्तर पुस्तिका का उठाव नही होगा. सभी बीआरसी में तालाबंदी की जाएगी.उन्होंने सभी नियमित शिक्षको से करबद्ध प्रार्थना किया कि हड़ताल पर शिक्षक 25 दिनों से डटे है. आपके समर्थन की जरूरत है. आपका समर्थन सूबे के 4 लाख शिक्षको का भविष्य बना सकता है. सरकार की दमनकारी नीति माध्यमिक शिक्षको पर दिखी लेकिन वह टस से मस नही हुए. लड़ाई अब शिखर छू रही है इसको सहयोग की जरूरत है.इसके पूर्व आदर्श मध्य विद्यालय के शिक्षक वीरेश्वर कुमार सिंह की आकस्मिक निधन पर शोक सभा का आयोजन कर मृत आत्मा की शांति के लिए दो मिनट का मौन रखा गया.

धरने के संचालन अरविंद राय और अध्यक्षता समरेंद्र बहादुर सिंह ने की. इस अवसर ओर कमलेश्वर यादव, सतीश सिंह, राजू सिंह, संतोष कुमार, सुनील सिंह, विजय कुमार सहित सैकड़ों महिला पुरुष शिक्षक मौजूद थे.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें