छपरा नगर निगम और सफाईकर्मियों के बीच हुआ समझौता, 9 दिन बाद टूटा हड़ताल

छपरा नगर निगम और सफाईकर्मियों के बीच हुआ समझौता, 9 दिन बाद टूटा हड़ताल

Chhapra: छ्परा निगम के अधिकारियों से समझौते के बाद निगम के 400 दैनिक वेतन सफाई कर्मियों ने 9 दिनों तक चली हड़ताल को रविवार की देर शाम को समाप्त कर दिया. लोकायुक्त के आदेश के विरुद्ध सफाईकर्मी  1 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर थे. लोकायुक्त के आदेश को समाप्त करने के लिए सफाई कर्मी लगातार प्रदर्शन कर रहे थे. इसके बाद नगर निगम की मेयर प्रिया सिंह, डिप्टी मेयर नागेंद्र राय, उप नगर आयुक्त एवं स्थाई समिति की उपस्थिति में निगम और सफाई कर्मियों के बीच समझोता हुआ. जिसके बाद सफाई कर्मियों ने हड़ताल समाप्त कर दी.

किसी भी कर्मी को नहीं हटाएगा निगम

निगम ने लिखित रूप से दिया कि छ्परा नगर निगम में कार्यरत 400 दैनिक सफाई कर्मी, खनुआ सफाई कर्मी, सफाई जमादार, ड्राइवर, पंप ऑपरेटर एवं कार्यालय लिपिक की सेवा पारिश्रमिक भुगतान यथावत बनी रहेगी. इनमें से किसी को भी नहीं हटाया जाएगा. इसके अलावा सभी कर्मियों के नियमितीकरण की प्रक्रिया पूर्व की तरह जारी रहेगी. निगम में चल रहे प्रभारी व्यवस्था को समाप्त करने हेतु रिक्तियों के विरुद्ध प्रोन्नति स्थाई नियुक्ति की कार्रवाई शीघ्र प्रारंभ की जाएगी.

बंद के दौरान सफाईकर्मियों पर किये मुकदमे वापस लेगा निगम

वहीं हड़ताल की अवधि में सभी तरह के दंडात्मक कार्रवाई वापस लेने पर भी समझौता हुआ. हड़ताल के दौरान सफाई कर्मियों पर कार्य में बाधा के दौरान हुए एफ आई आर को वापस लिया जाएगा. इसके इसके अलावा हड़ताल की अवधि में कर्मचारियों की वेतन कटौती भी नहीं की जाएगी. वहीं हड़ताल के दौरान छपरा नगर निगम के नेता एवं अन्य कर्मचारियों पर दर्ज किए गए मुकदमे वापस लिए जाएंगे तथा किसी कर्मी पर कार्रवाई नहीं की जाएगी. नगर निगम कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सियाराम सिंह ने बताया की सोमवार से शहर में सभी सफाईकर्मी काम पर लौट जाएंगे.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें