श्रीराम जन्मोत्सव शोभा यात्रा का बजरंग दल, वीएचपी से कोई सम्बन्ध नही: सियाराम सिंह

श्रीराम जन्मोत्सव शोभा यात्रा का बजरंग दल, वीएचपी से कोई सम्बन्ध नही: सियाराम सिंह

छपरा: श्री राम जन्मोत्सव शोभायात्रा समिति बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के बीच दरारें और बढ़ गई है. बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद द्वारा श्री राम जन्मोत्सव शोभा यात्रा समिति के सदस्यों को संगठन से निकाले जाने की खबर पर सवाल उठाते हुए रविवार श्री राम जन्मोत्सव शोभा यात्रा समिति के कार्यकारी अध्यक्ष व अनुज्ञप्तिधारी सियाराम सिंह ने कहा कि शोभा यात्रा समिति के किसी सदस्य का बजरंग दल व विश्व हिंदू परिषद से कभी कोई सम्बन्ध नहीं रहा.

प्राप्त जानकारी के अनुसार बजरंग दल और वीएचपी को शोभा यात्रा समिति द्वारा सही आय व्यय ब्यौरा नहीं सौपने के कारण 5 सदस्यों को निष्कासित करने की खबर सामने आयी है. इस पर सियाराम सिंह ने कहा कि जिन कार्यकर्ताओं को निकालने की खबर आ रही हो वो कार्यकर्ता कभी भी बजरंग दल और वीएचपी के कभी सदस्य बने ही नही. इसके बावजूद उन्हें कैसे निकाल दिया गया. उन्होंने कहा कि बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद हमारे शोभा यात्रा समिति के कार्यकर्ताओं की छवि धूमिल करने की कोशिश कर रहा है. बजरंग दल के इस कार्य से हमलोग इन दोनों संगठनों के ऊपर कानूनी कार्यवाही करेंगे.

उन्होंने बताया कि जब शोभा यात्रा समिति का इन दोनों संगठनों से कोई ताल्लुकात नही फिर इन संघठन को किसी भी प्रकार से शोभा यात्रा समिति से आय व्यय का ब्यौरा मांगने का हक नहीं है.

कार्यकारी अध्यक्ष ने यह अस्पष्ट रूप से कहा कि शोभा यात्रा समिति के किसी भी कार्यकर्ता का अन्य किसी भी धार्मिक संगठन से कोई सम्बन्ध नहीं है.

2019 में निकाली जाने वाली शोभा यात्रा को लेकर हुई बैठक

रविवार को विधिमंडल पुस्तकालय के समक्ष शोभा यात्रा समिति की बैठक की गई और 2019 में शोभा यात्रा को लेकर चर्चा भी की गयी. इस अवसर पर कार्यकारी अध्यक्ष के साथ लक्ष्मी नारायण गुप्ता, अमित गुप्ता, नवीन कुमार, गोपाल श्रीवास्तव, रितेश धनंजय, रवि के साथ शोभा यात्रा समिति के दर्जनों कार्यकर्ता उपस्थित रहे.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.