साक्षरता कार्यक्रम में पहले पायदान पर होगा सारण : अमरेंद्र कुमार

  • 3 जून को टोला सेवक और तालीमी मरकज़ की समस्या को सुनेंगे डीपीओ
  • 5 जून को साक्षरता केंद्रों पर लगाये जायेंगे पौधें

Chhapra : जिले में चल रही साक्षरता कार्यक्रमों की कमान अब जिला कार्यक्रम पदाधिकारी साक्षरता अमरेंद्र कुमार गौड़ संभालेंगे. शिक्षा विभाग के साक्षरता शाखा का पदभार लेने के साथ ही डीपीओ ने सभी प्रखंड स्तरीय केआरपी की आवश्यक बैठक करते हुए साक्षरता कार्यक्रमों में तेजी लाने का निर्देश दिया.

डीपीओ अमरेंद्र कुमार गोंड ने जिला स्कूल परिसर में आयोजित बैठक में कहा कि साक्षरता विभाग द्वारा संचालित मुख्यमंत्री महादलित, अल्पसंख्यक अति पिछड़ा वर्ग अक्षर आंचल योजना के तहत कार्यरत टोला सेवक एवं तालिमी मरकज अपने दायित्व का निर्वहन करें. विद्यालय में नामांकित करवाए गए बच्चों को ट्यूशन देने के साथ-साथ वह असाक्षर महिलाओं को भी साक्षर करने का कार्य करें.

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार साक्षरता के विकास को लेकर सक्रिय है और सारण जिला इस कार्य में पहले पायदान पर होगा.

1 जून से साक्षरता विभाग की कमान संभालने के साथ ही डीपीओ ने निर्देश देते हुए कहा कि कार्यक्रम के संचालन में किसी तरह की लापरवाही किसी स्तर पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

समय पर मिलेगा टोला सेवक को वेतन

उन्होंने कहा कि टोला सेवक, तालिमी मरकज को समय पर वेतन मिले इसके लिए वह प्रयास करेंगे, बशर्ते कि उन्हें शत प्रतिशत अपने दायित्वों का निर्वहन करना होगा.

3 जून को डीपीओ सुनेंगे टोला सेवक की बकाया वेतन समस्या

उन्होंने कहा कि जिले में कार्यरत सभी टोला सेवक तालिमी मरकज अपने वेतन संबंधी बकाया समस्या को लेकर आगामी 3 जून उपस्थित होकर अपनी समस्याओं को रखें. जिससे कि जल्द से जल्द उनकी समस्याओं का निदान किया जा सके.

डीपीओ ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि साक्षरता के क्षेत्र में सारण जिला पहले पायदान पर होगा और इसके लिए और पूरी तरह से समर्पित हैं.

साक्षरता केंद्रों पर मनेगा पर्यावरण दिवस

वही बैठक को संबोधित करते हुए एसआरजी यशवंत कुमार सिंह ने कहा कि आगामी 5 जून को पर्यावरण दिवस मनाया जाएगा. इस अवसर पर सभी टोला सेवक एवं तालिमी मरकज द्वारा अपने अपने विद्यालय एवं साक्षरता केंद्रों पर पर्यावरण संतुलन को लेकर पौधा लगाया जाएगा. जिससे समाज में पर्यावरण को लेकर एक सकारात्मक संदेश पहुंचेगा.

बैठक में इसुआपुर केआरपी संतोष कुमार, गरखा के केआरपी अमित कुमार, एकमा केआरपी सुलेखा कुमारी, मांझी केआरपी मुकेश कुमार, जय राम प्रसाद बबीता कुमारी, आशा किरण सिन्हा, नवल किशोर ठाकुर, सावित्री कुमारी, संजय भारती, शामिल थे.

0Shares
A valid URL was not provided.