बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार के खिलाफ राजद एवं सीपीआई ने निकाला प्रतिरोध मार्च

बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार के खिलाफ राजद एवं सीपीआई ने निकाला प्रतिरोध मार्च

बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार के खिलाफ राजद एवं सीपीआई ने निकाला प्रतिरोध मार्च

Chhapra: देश में लगातार बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार एवं सरकारी एजेंसियों के दुरुपयोग को लेकर रविवार को राष्ट्रीय जनता दल एवं सीपीआई द्वारा प्रतिरोध मार्च निकाला गया. राज्य मुख्यालय से लेकर सूबे के सभी जिला मुख्यालयों पर राष्ट्रीय जनता दल के सिपाहियों ने प्रतिरोध मार्च निकालकर सरकार को बढ़ती महंगाई, देश में व्याप्त भ्रष्टाचार, युवाओं की बढ़ती बेरोजगारी की समस्याओं पर सरकार को घेरा.

छपरा शहर के जिला मुख्यालय में राष्ट्रीय जनता दल एवं सीपीआई के नेताओं द्वारा प्रतिरोध मार्च निकाला गया. जो शहर के विभिन्न मार्गो से होते हुए नगरपालिका चौक पहुंची प्रतिरोध मार्च में नीतीश कुमार हाय हाय, नरेंद्र मोदी हाय हाय के नारे लगाए गए और केंद्र सरकार को अविलंब बढ़ती महंगाई पर लगाम लगाने की बात कही गई.

प्रतिरोध मार्च में जिले के मढ़ौरा विधायक जितेंद्र कुमार राय ने कहा कि देश में महंगाई चरम पर है, युवा बेरोजगार है, भ्रष्टाचार है, देश की एजेंसियों को दुरुपयोग किया जा रहा है, दाल, चीनी, पेट्रोल के दाम आसमान छू रहे हैं, वहीं सरकार ने बच्चों के दूध पर भी टैक्स लगा दिया है.

उन्होंने सरकार से बढ़ती महंगाई पर लगाम लगाने की बात कहते हुए कहा कि अगर सरकार हमारी मांगों को नहीं मानती है तो इसके आगे भी आंदोलन जारी रहेगा जो एक बड़ा रूप लेगा.

वही सोनपुर के विधायक रामानुज राय ने कहा कि सरकार ने दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था लेकिन फिलहाल वह अपने वादे से मुकर गई है. युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है. कल कारखाना, रेल, जहाज सभी अंबानी और अडानी को दिए जा रहे हैं. घरों में आने वाले खाद्य पदार्थ यहां तक कि बच्चे के दूध पर टैक्स लग गया है. बेरोजगार युवा जब जीवन की अंतिम सांस तक पहुंचेगा तो वहां कफन पर भी टैक्स लग गया है. सरकार को चेतना चाहिए जनता में आक्रोश है, जिसका खामियाजा सरकार को भुगतना होगा.

वही मांझी विधायक सत्येंद्र यादव ने कहा कि संपूर्ण बिहार में प्रतिरोध मार्च निकाला गया है. देश की ऐसी सरकार जो दूध पर भी टैक्स लगा दे उसे रहने का कोई अधिकार नहीं है. प्रतिरोध मार्च ने एक नया विकल्प का मार्ग प्रशस्त किया है.

वहीं छपरा के पूर्व विधायक रणधीर सिंह ने कहा कि युवाओं के पास रोजगार नहीं है, प्रतिरोध मार्च के जरिए देश में बढ़ती महंगाई बेरोजगारी भ्रष्टाचार को लेकर आम जनता को जागरूक किया जा रहा है. लोगों को जगाया जा रहा है. लोग जागेंगे तभी सरकार इस बढ़ती महंगाई पर लगाम लगाएगी.

इसके अलावा कई राजद और सीपीआई, एसएफआई के कई नेताओं ने सभा को संबोधित करते हुए सरकार पर धावा बोला.

0Shares
[sharethis-inline-buttons]

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें