रेड क्रॉस सोसाइटी ने पुलिस पदाधिकारियों के लिए प्री हॉस्पिटल प्रशिक्षण का किया आयोजन

रेड क्रॉस सोसाइटी ने पुलिस पदाधिकारियों के लिए प्री हॉस्पिटल प्रशिक्षण का किया आयोजन

  • सड़क सुरक्षा माह के उपलक्ष में किया गया प्रशिक्षण शिविर का आयोजन

Chhapra: सड़क दुर्घटना एक गंभीर समस्या बनती जा रही है। ऐसे में सड़क दुर्घटना में घायलों की जान बचाना सबसे महत्वपूर्ण विषय है। इसके लिए आवश्यक है कि घायलों को अस्पताल जाने के पहले तत्काल उपचार की व्यवस्था करना। उक्त बातें छपरा सदर अस्पताल के चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर एच एन प्रसाद ने पुलिस केंद्र में रेड क्रॉस सोसायटी की ओर से सड़क सुरक्षा जागरूकता माह के उपलक्ष्य में आयोजित पुलिस पदाधिकारियों के प्री हॉस्पिटल प्रशिक्षण कार्यक्रम में कही। उन्होंने कहा कि घटना स्थल से अस्पताल की दूरी तय करने में जितनी समय लगती है, उतने समय में घायलों की जान को अधिक खतरा बढ़ जाता है। ऐसी स्थिति में प्री हॉस्पिटल प्रशिक्षण पुलिस पदाधिकारियों को दिया जाना महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि जितने अधिक पुलिस पदाधिकारी प्री हॉस्पिटल के मामले में प्रशिक्षित होंगे, उतनी अधिक घायलों की जान बचाने में सहूलियत होगी।

उन्होंने कहा कि घटना स्थल पर तत्काल जो उपचार संभव है, उसे अवश्य करें। उपचार के तुरंत बाद घायल को अस्पताल पहुंचाएं। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटना में किसी भी व्यक्ति के जख्मी होने के बाद एंबुलेंस अथवा अन्य वाहनों का प्रबंध जब तक नहीं हो रहा है। उतने समय में घायल का इलाज घटना स्थल पर ही करें । एंबुलेंस अथवा वाहन पहुंच जाने पर उसे तत्काल अस्पताल पहुंचाएं। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटना में घायलों का इलाज जितनी जल्द, होगी उसकी जान को बचाना उतना ही आसान होगा। इलाज में विलंब होने पर घायलों के जीवन पर खतरा बढ़ जाता है।

इसके पहले युवा रेड क्रॉस सोसाइटी के सचिव अमन राज ने बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं पर गंभीर चिंता व्यक्त की और कहा कि सावधानी हटी, दुर्घटना घटी वाली कहावत लगातार हो रही है। उन्होंने कहा कि जल्द-बाजी में सबसे अधिक दुर्घटना के शिकार बाइक सवार हो रहे हैं। बाइक सवारों को गति पर नियंत्रण करने की आवश्यकता है । इस मौके पर मुख्यालय डीएसपी रहमत अली ने सड़क सुरक्षा नियम की विस्तार से चर्चा की और कहा कि नियम का उल्लंघन करने पर जुर्माना देकर लोग बच सकते हैं। लेकिन नियम का उल्लंघन करने पर दुर्घटना के शिकार होने पर जो नुकसान होती है। उसकी भरपाई संभव नहीं है। सार्जेंट मेजर मनोज कुमार ने कहा कि दुर्घटनाओं से बचने के लिए कुछ प्रमुख बातों का ध्यान रखना आवश्यक है। पहली बात सड़क सुरक्षा नियम का पालन करें। दूसरी बात किसी भी काम के लिए जाते समय पर्याप्त समय लेकर घर से निकले । वाहन चलाते समय जल्द बाजी नहीं करें। वाहन को हमेशा अपने लिंग में चलाएं ओवरटेक न करें। इस मौके पर जिले के विभिन्न थाने के पुलिस पदाधिकारियों के अलावा यातायात पुलिस के जवान और पुलिस केंद्र के सभी पुलिस कर्मियों ने भाग लिया।

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें