परिवार नियोजन की जिम्मेदारी सिर्फ महिलाओं का नहीं, पुरूषों की सहभागिता जरूरी

परिवार नियोजन की जिम्मेदारी सिर्फ महिलाओं का नहीं, पुरूषों की सहभागिता जरूरी

• पुरूष नसबंदी पखवाड़ा पर जागरूकता फैलायेगी सारथी रथ
• सिविल सर्जन ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना
• निःशुल्क परिवार नियोजन साधनों का होगा वितरण
Chhapra: परिवार नियोजन में पुरुषों की भागीदारी को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से 21 नवम्बर से 04 दिसंबर तक राज्य भर में “पुरुष नसबंदी पखवाडा’’ का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। शुक्रवार को सदर अस्पताल से सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा ने हरी झंडी दिखाकर सारथी जागरूकता रथ को रवाना किया। इस मौके पर सिविल सर्जन डॉ. झा ने कहा कि परिवार नियोजन की जिम्मेदारी सिर्फ महिलाओं का नहीं है, इसमें अधिक से अधिक पुरूषों को अपना भागीदारी निभाना चाहिए। सभी के सहयोग से परिवार नियोजन कार्यक्रम में पुरुषों की सहभागिता बढ़ाने के लिए सभी स्तर पर व्यापक चर्चा की जरुरत है ताकि समुदाय में इसके लिए जागरूकता फैलाया जा सके। इस अवसर पर उपाधीक्षक डॉ. दीपक कुमार, आईएमए के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. शालीग्राम विश्वकर्मा, जिला स्वास्थ्य समिति के डीपीएम धीरज कुमार, डीसीएम बिजेंद्र कुमार सिंह,एमएनई भानू शर्मा, डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ. रंजितेष कुमार, हेल्थ मैनेजर राजेश्वर प्रसाद, लेखापाल बंटी कुमार रजक समेत अन्य चिकित्साकर्मी मौजूद थे।
गांव-गांव जाकर जागरूक करेगी सारथी रथ
सारथी वाहन के जरिए इस पखवाड़े के दौरान जिले के विभिन्न गांवों में घूम-घूम कर परिवार नियोजन के उद्देश्य, लाभ एवं परिवार नियोजन सेवा के अंतर्गत दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी दी जाएगी। चलचित्र एवं बैनर के माध्यम से आम जनों को परिवार नियोजन की जरूरत पर जानकारी दी जाएगी। जिसमें स्वस्थ माँ एवं तंदुरुस्त बच्चा हेतु सही उम्र में शादी, पहला बच्चा शादी के कम से कम दो साल बाद, दो बच्चों के बीच कम से कम तीन साल का अंतर, बच्चे दो ही जैसे विषयों पर परामर्श देते हुए गर्भनिरोधक उपाय अपनाने को बढ़ावा दिया जाएगा।

यह आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध 
• सारथी जागरूकता रथ में जीपीएस की सुविधा उपलब्ध है। लेड स्क्रीन एवं फ्लेक्स बैनर के माध्यम से परिवार नियोजन सेवाओं के बारे में प्रचार-प्रसार
• परिवार नियोजन के उपायों के संदर्भ में लिफ़लेट का वितरण
• अस्थायी सेवा के तहत गर्भनिरोधकों जैसे कंडोम एवं गर्भ निरोधक गोलियों( माला-एन, छाया एवं आपातकालीन गर्भनिरोधक गोली) का वितरण
• स्थायी सेवा यथा महिला नसबंदी, पुरुष नसबंदी, प्रसवोपरांत नसबंदी के लिए इच्छुक लाभार्थी का पंजीयन के साथ प्रसवोपरांत कॉपर-टी संस्थापन एवं गर्भनिरोधक सुई-अंतरा लगवाने हेतु पंजीयन की सुविधा
• आमजनों को जानकारी उपलब्ध कराने हेतु परामर्श की सुविधा

दो चरणों में चलेगा पखवाड़ा 
यह पखवाड़ा दो चरणों में चलाया जायेगा। 21 नवम्बर से 27 दिसम्बर तक पहला चरण की शुरूआत की गयी। जिसमें लाभार्थियों को परिवार नियोजन पर जानकारी दी जा रही है। 28 नवम्बर से 4 दिसम्बर तक दूसरा चरण चलेगा, जिसमें विभिन्न आयोजनों के माध्यम से लोगों को पुरुष नसबंदी सेवा प्रदान की जाएगी।

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें