BSSC पेपर लीक मामले पर बोले केन्द्रीय मंत्री, बिहारियों का नाम हुआ बदनाम

छपरा: जितना मान-सम्मान बिहार को प्रकाश पर्व में मिला, विगत दो घटनाओं ने बिहार का नाम बदनाम कर दिया. 15 साल लालू यादव और 15 साल नीतीश कुमार के कार्यकाल में ऐसी कई घटनाएं हुई जिसने बिहारियों को अपमानित कर शर्म से सर झुकाने पर मजबूर कर दिया है. बिहार देश और दुनिया में पहले टॉपर घोटाले को लेकर और अब बिहार SSC पेपर लीक मामले के कारण हास्य का पत्र बन गया है. उक्त बातें केंद्रीय मंत्री सह स्थानीय सांसद राजीव प्रताप रूडी ने छपरा में आयोजित प्रेस वार्ता में कही.

उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सात निश्चय योजना पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि निश्चय यात्रा समाप्त हो गई है लेकिन इसमें व्यापक भ्रष्टाचार है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना द्वारा बनाये गये सड़कों में भी राज्य सरकार का भ्रष्टाचार स्पष्ट रूप से दिख रहा है. जो सड़कें बनी है उसे पांच सालों तक दुरुस्त रखना है लेकिन ग्रामीण इलाकों की सड़कें जर्जर हो गयी है.

उत्तर प्रदेश में हो रहे विधानसभा चुनाव पर चर्चा करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी बहुमत के साथ सरकार बनाने के लिए तैयार है. कांग्रेस उपाध्यक्ष के ‘ढाई सालों में मोदी सरकार ने कुछ नही किया है’ इस बयान पर कहा कि राहुल गाँधी कौशल विकास केंद्र में आकर देखे और बच्चों से मिले तब उन्हें पता चलेगा की देश में विकास कितनी रफ़्तार में है.

0Shares
A valid URL was not provided.