प्रवासियों की कराई जा रही है स्कील मैपिंग, रोजगार के लिए नहीं पड़ेगा भटकना

प्रवासियों की कराई जा रही है स्कील मैपिंग, रोजगार के लिए नहीं पड़ेगा भटकना

Chhapra: लॉकडाउन के चलते बड़ी संख्या में बिहार लौट रहे कामगारों के लिए अच्छी खबर है. राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन सारण के द्वारा उनको रोजगार दिलाने की दिशा में एक और महत्वपूर्ण पहल की जा रही है.

आने वाले दिनों में इन कामगारों के मोबाईल पर रोजगार संबंधी संदेश पहुँचेगी. इस संदेश के जरिए वे जान सकेंगे कि उनकी योग्यता के अनुसार उनके आसपास रोजगार के कौन-कौन से विकल्प उपलब्ध हैं.

आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा कोविड-19 पोर्टल पर प्रवासियों का रजिस्ट्रेशन करते हुए उनकी स्कील मैपिंग कराई जा रही है. अब तक जिले में आए लगभग 40,000 प्रवासियों में से 21,000 की स्किल मैपिंग की जा चुकी है. ये प्रवासी मुख्यतः निर्माण श्रमिक हैं तथा इसके अलावा इलेक्ट्रीशियन, मैकेनिक, फिटर, सिलाई का काम करने वाले आदि श्रेणी के हैं.

उक्त पोर्टल के डाटा के आधार पर उद्योग विभाग द्वारा श्रम साधन पोर्टल की व्यवस्था की गई है जिसका बेवसाईट http://shramsadhan.bih.in/ है.

इस पोर्टल पर कोई भी सरकारी/गैर सरकारी/निजी एजेंसी द्वारा रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है. उसके बाद उनको लॉग-इन आईडी एवं पासवर्ड जेनरेट हो जाएगा. जिसके माध्यम से लॉग-इन करते हुए किसी भी सरकारी/गैर सरकारी/ निजी एजेंसी द्वारा अपने प्रोजेक्ट/कार्य/ कार्य स्थल के अनुरूप डिमांड प्लेस किया जा सकता है. डिमांड प्लेस होने के उपरांत यह जिला के लॉग-इन पर आ जाएगा एवं जिला द्वारा संबंधित प्रखण्ड/क्षेत्रान्तर्गत अधियाचित श्रेणी के श्रमिक की उपलब्धता के आधार पर इसे एप्रुव किया जाएगा.

तत्पश्चात संबंधित एजेंसी महाप्रबंधक, जिला उद्योग केन्द्र से संपर्क कर श्रमिकों की विवरणी प्राप्त कर उन्हें कार्य दे सकेंगे. वर्तमान में ग्रामीण विकास विभाग, भवन प्रमण्डल, पथ निर्माण विभाग, ग्रामीण कार्य विभाग एवं अन्य विभाग द्वारा अधियाचना जिला के पोर्टल पर दर्ज करायी जा चुकी है. उक्त जानकारी जिला जन-सम्पर्क पदाधिकारी, सारण ने दी.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें