मजदूर यूनियन ने निजीकरण के विरुद्ध में छपरा जंक्शन पर किया धरना प्रदर्शन

मजदूर यूनियन ने निजीकरण के विरुद्ध में छपरा जंक्शन पर किया धरना प्रदर्शन

Chhapra: छपरा जंक्शन पर N.E रेलवे मजदूर यूनियन के छपरा शाखा ने भारत सरकार द्वारा ₹6 लाख करोड़ रुपए के मौदीकरण अभियान के तहत रेलवे के 1.52.496 रुपए की मूल्यवान परिसंपत्तियों के बेचने के विरुद्ध एवं 400 रेलवे स्टेशन 15 रेलवे स्टेडियम 90 पैसेंजर गाड़ियां 256गुड्स सेड 441 किलोमीटर डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर 1400 किलोमीटर ओएचई ट्रैक सामग्री भारतीय रेलवे कॉलोनी 4 पर्वतीय रेलवे कार्मिक विभाग का खात्मा के विरोध में आज भारी संख्या में N.E रेलवे पदाधिकारी एवं कर्मचारीकर्मचारी ने उग्र धरना प्रदर्शन किया.

भारत सरकार और रेलवे के अधिकारियों के खिलाफ कर्मचारी नेताओं ने जुलूस निकाला जुलूस रेलवे स्टेशन होते हुए एक नंबर प्लेटफार्म होते हुए डीजल लॉबी होते हुए सर्कुलेटिंग एरिया में सभा सभा स्थल पर पहुंचे. सभा को संबोधित करने वालों में डी के सिंह, शशि भूषण प्रसाद, विजय कुमार यादव, राकेश कुमार, मान सिंह, अरविंद राय सिंह, मुकेश सिंह, मिथिलेश प्रसाद, निसार अहमद, जलालुद्दीन, पंकज कुमार, रितेश कुमार, विजेंद्र कुमार, नारद मंडल अशोक राम, श्याम लाल, काशीनाथ प्रसाद सहित अन्य कर्मचारी नेताओं ने संबोधन किया. संबोधन में यूनियन के नेताओं ने कहा की अगर मोदी सरकार निजी करण को बंद नहीं करती है रेल की संपत्ति को बेचना बंद नहीं करती है तो इसके खिलाफ N.E रेलवे मजदूर यूनियन AIRF का जो अगला निर्णय होगा उसके तहत और बड़ा आंदोलन करेगी.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें