28 अक्टूबर को महाअभियान, वंचित लाभार्थियों का होगा टीकाकरण: डीएम

28 अक्टूबर को महाअभियान, वंचित लाभार्थियों का होगा टीकाकरण: डीएम

• अभियान के सफल क्रियान्वयन को लेकर वीडियो कंफ्रेंसिंग के माध्यम से डीएम ने की समीक्षा
• डब्ल्यूएचओ, केयर इंडिया ,यूनिसेफ के प्रतिनिधि करेंगे सहयोग
• डोर-टू-डोर सर्वे के टीकाकरण से वंचितों को किया गया है चिह्नित
Chhapra: जिले मे कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कोविड टीकाकरण जारी है। ऐसे में विभाग द्वारा चरणबद्ध तरीके से अभियान चलाकर टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल करने का प्रयास किया जा रहा है। इसी कड़ी में 28 अक्टूबर को महा अभियान आयोजित किया जायेगा। इसको लेकर जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे के द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। जिसमें डीएम के द्वारा कई आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि महा अभियान के तहत निर्धारित लक्ष्य को हर हाल में हासिल करना है। टीकाकरण से वंचित लाभार्थियों को टीका देना सुनिश्चित करें। सेशन साइट की संख्या को बढ़ाकर टीकाकरण का लक्ष्य हासिल करना होगा। उन्होंने कहा कि छठ महापर्व से पूर्व 28 अक्टूबर एवं 7 नवंबर को प्रथम डोज का टीका विशेष अभियान चलाकर शत प्रतिशत वंचित लोगों का टीकाकरण सुनिश्चित किया जाए। जिले भर में कोई भी व्यक्ति टीकाकरण से वंचित ना रहे । कोई छूटे नहीं । जिले भर में अभियान चलाकर वंचित लोगों का सर्वे किया गया है । उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि सर्वे में चिह्नित सभी वंचित लोगों का टीकाकरण यथाशीघ्र पूर्ण करना सुनिश्चित करें । उन्होंने कहा कि बिना आधार कार्ड वाले लाभुकों को भी वैक्सीनेशन करना सुनिश्चित करें । ग्रामीण क्षेत्रों में गांव-गांव तक टीकाकरण एवं टेस्टिंग सुनिश्चित की जाए । इस बैठक में डीएम के अलावा डीडीसी अमित कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी, सिविल सर्जन डॉ. जेपी सुकुमार, डीआईओ डॉ. चंदेश्वर सिंह, डीपीएम अरविन्द कुमार, डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ. रंजितेश कुमार, यूनिसेफ एसएमसी आरती त्रिपाठी, डीपीसी रमेश चंद्र कुमार, डीसीएम बजेंद्र कुमार सिंह, डीएमएंडई भानू शर्मा समेत सभी बीडीओ, सीओ, एमओआईसी, सीडीपीओ, बीएचएम शामिल थे।
लक्ष्य के अनुरूप कोविड जांच सुनिश्चित करें
जिलाधिकारी ने कहा त्यौहारों के मद्देनजर कोविड टेस्टिंग कार्य में भी प्रगति लाई जाए । ताकि सभी जिला वासियों को कोरोना महामारी से सुरक्षा प्रदान की जा सके । उन्होंने संबंधित पदाधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि छठ महापर्व के अवसर पर अन्य प्रदेशों से आने वाले शत प्रतिशत प्रवासियों का टीकाकरण एवं टेस्टिंग हर हाल में सुनिश्चित की जाए । सारण जिला को प्रत्येक दिन 9490 रैपिड एंटीजन टेस्ट एवं 3240 आरटीपीसीआर जांच करना है। सभी स्वास्थ्य संस्थान प्रत्येक दिन कम से कम 350 रैपिड एंटीजन जांच एवं 150 आरटीपीसीआर जांच करना सुनिश्चित करेंगे। अनुमंडलीय अस्पताल सोनपुर द्वारा प्रत्येक दिन कम से कम 400 रैपिड एंटीजन टेस्ट एवं 500 आरटीपीसीआर जांच किया जाना है। सदर अस्पताल छपरा द्वारा प्रत्येक दिन न्यूनतम 500 रैपिड एंटीजन टेस्ट एवं 700 आरटीपीसीआर जांच किया जाना है।

टीकाकरण वंचितों की पहचान के लिए हो रहा है सर्वे
जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे ने बताया कि टीकाकरण से वंचित लोगों की पहचान के लिए आशा कार्यकर्ता और सेविका के द्वारा डोर-टू-डोर सर्वे किया जा रहा है। सर्वे का आंकड़ा पोर्टल पर भी अपलोड किया जा रहा है। सर्वे के आधार पर विशेष टीकाकरण आयोजित किया जा रहा है तथा वंचित लाभार्थियों का टीकाकरण भी किया जायेगा। इस कार्य मे सभी सहयोगी संस्था विश्व स्वास्थ्य संगठन, केयर इंडिया और यूनिसेफ के द्वारा भी सहयोग किया जा रहा है। डाटा अपलोडिंग तथा फिल्ड स्तर पर सहयोगी संस्थाओं के द्वारा सहयोग किया जा रहा है।

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें