ओमीक्रोन को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट, विदेश से आने वाले प्रवासियों की हो रही ट्रैकिंग

ओमीक्रोन को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट, विदेश से आने वाले प्रवासियों की हो रही ट्रैकिंग

• विदेश से आने वाले व्यक्तियों की आरटीपीसीआर जांच सुनिश्चित
• आवश्यकतानुसार पॉजिटिव मरीजों को कोविड केयर सेंटर में किया जाएगा भर्ती
• डेडिकेटेड कोविड हेल्थ केयर और कोविड केयर सेंटर को क्रियाशील करने का निर्देश
• राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक ने जारी किया निर्देश

Chhapra: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर स्वास्थ विभाग पूरी तरह से अलर्ट है। इससे निपटने को लेकर आवश्यक तैयारी भी शुरू कर दी गयी है। ओमिक्रोन को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन की चेतावनी के बाद स्वास्थ्य विभाग अलर्ट है। विदेश से आने वाले प्रवासियों की सूची तैयार की जा रही तथा स्वास्थ्यकर्मियों के द्वारा ट्रैकिंग भी की जा रही है। इस संबंध में राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेश संजय कुमार सिंह ने पत्र जारी कर डीएम और सिविल सर्जन को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया है। जारी पत्र में कहा गया है कि विदेश से भारत लौटने वाले बिहार के प्रवासियों की सूची जिलावार प्रतिदिन भेजी जा रही है। सूची के आधार पर चिह्नित व्यक्तियों से दूरभाष पर संपर्क कर तथा उनके घर पर स्वास्थ्य कर्मियों को भेजकर सैंपल कलेक्शन कराना सुनिश्चित किया जायेगा। विदेश से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की आरटीपीसीआर जांच करना सुनिश्चित किया जाये। इसके साथ इससे संबंधित प्रतिवेदन प्रतिदिन राज्य मुख्यालय को भेजा जाये।

हवाई अड्‌डे पर जांच जरूरी
विदेश से लौटने वाले व्यक्तियों की जांच पटना तथा दरभंगा एयरपोर्ट पर सुनिश्चित की जायेगी। कम से कम 5 प्रतिशत यात्रियों के आरपटीपीसीआर जांच के लिए रैंडम सैंपल संग्रह किया जायेगा। अधिक से अधिक रैपिड एंटीजन किट से जांच की जायेगी। कोविड जांच में पॉजिटिव पाये गये यात्रियों की सैंपल को आईजीआईएमएस भेजा जायेगा।

कोविड केयर सेंटर को क्रियाशील करने का निर्देश
जारी पत्र के माध्यम से निर्देश दिया गया है कि जिले मे पूर्व अधिष्ठापित डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर एंव कोविड केयर सेंटर में लगे बेड और उपकरणों की साफ-सफाई कर क्रियाशील किया जाये। ताकि आवश्यकता अनुसार कोविड के मरीजों को भर्ती किया जा सके। कोविड केयर सेंटर में सभी सुविधा सुनिश्चित की जाये। जरूरत पड़ने पर मरीजों को भर्ती कर इलाज किया जाये। इसके साथ हीं ओमिक्रोन के प्रबंधन को लेकर जारी दिशा-निर्देश का पालन सुनश्चित किया जाये।

संक्रमण से बचना है तो रक्षा कवच को अपनाएं
सिविल सर्जन डॉ. सागर दुलाल सिन्हा ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से बचाव का एक मात्र उपाय टीकाकरण हीं है। ऐसे में हर योग्य व्यक्तियों को कोविड का टीका लेना आवश्यक है। ताकि इस गंभीर बीमारी से बचाव किया जा सके। इसके साथ हीं आम जनता की जिम्मेदारी है कि कोविड अनुरूप व्यवहारों का पालन करें। कोविड टीका का दोनों डोज लेना जरूरी है। जिनका भी सेकेंड डोज का समय हो गया है वह आवश्यक अपना टीकाकरण करा लें।

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें