Jul 19, 2018 - Thu
Chhapra, India
30°C
Wind 3 m/s, E
Humidity 79%
Pressure 748.56 mmHg

19 Jul 2018      

Home आपका शहर

छपरा ( संतोष कुमार ‘बंटी’ ): कहते है कि सुंदर संगीत और अच्छी फ़िल्म मनुष्य को आनंदित करती हैं.शाम के नास्ते के समय इन दोनों का आनंद मिला जाए तो क्या कहना.

हालांकि इसके लिए कुछ ज़्यादा ही जेब ढीली करनी पड़ेगी शहर के किसी अच्छे रेस्टोरेंट में जाना होगा. जिससे कि इसकी अनुभूति हो सकें.

लेकिन छपरा वासियों को इसके लिए जेब ढीली नही करनी होगी उन्हें तो बस नास्ते के पैसे देने होंगे बाकि सब तो ग्राहक की सेवा और मनोरंजन के लिये है.

शहर के मुख्य बाजार थाना चौक से सटे पंकज सिनेमा के पास प्रिंस चाट के नाम से मशहूर इस दुकान पर ग्राहक के मनोरंजन का हर साधन मौजूद है.

ठेले पर ही सही रेस्टोरेंट जैसी झिलमिल करती रंगबिरंगी रौशनी के बीच होम थिएटर की आवाज और एचडी एलसीडी टीवी पर चल रही फ़िल्म रेस्टोरेंट का मजा देती है.

कम खर्च में चटपटे नास्ते और चार चांद लगाते है.

दुकानदार टुनटुन राय बताते है कि उनकी दुकान भले ही ठेले पर हो लेक़िन स्वच्छ्ता और सुंदरता को उन्होंने कभी दरकिनार नही किया.

स्वादिष्ट नास्ते की तरह वह अपनी दुकान को भी स्वादिष्ट बनाकर रखते है. सुमधुर गीत सुनकर यहां आने वाले ग्राहकों की थकान मिट जाती है उनके चेहरे खिले जाते है.

उन्होंने बताया कि दुकान ही मेरा मंदिर है जिसके कारण मैं इसे सजा कर रखता हूँ.बेची जाने वाली समानों की शुद्धता और उनकी गुणवत्ता से कोई समझौता मैं नहीं करता.

(Visited 1,109 times, 1 visits today)
Similar articles

Comments are closed.

error: Content is protected !!