छपरा में जाली नोट छापकर यूपी, असम के बाज़ारों में हो रही थी सप्लाई, पढ़िये डिटेल

छपरा में जाली नोट छापकर यूपी, असम के बाज़ारों में हो रही थी सप्लाई, पढ़िये डिटेल

Saran: सारण पुलिस ने ज़िले में कई महीनों जाली नोट छाप रहे गिरोह का पर्दाफाश किया है. यह गिरोह पिछले 3 महीने से जाली नोटों की छपाई कर रहा था. तीन तीन जगह पर हुई छापेमारी के बाद सारण पुलिस ने जाली नोट छापने वाले प्रिंटर मशीन, नोट पर चिपकाए जाने वाले तार के साथ कई अहम सामानों को बरामद किया.

1 करोड़ से अधिक के जाली नोट छापे

पुलिस के अनुसार इन नोटों को बड़ी मात्रा में यूपी, असम के बाज़ारों में खपाया जाता था. उन्होंने बताया कि 40 प्रतिशत की दर से इन नोटों को बाजार में भेजा जाता था. पिछले तीन महीने में अबतक 1 करोड़ से भी अधिक के नकली नोट छाप कर बाजार में भेजे गये है.

लोकसभा चुनावों में भी होना था इस्तेमाल

पुलिस ने बनियापुर, कोपा तथा रिविलगंज थाना क्षेत्रों के विभिन्न घरों में छापेमारी में 5.25 लाख के नकाली नोटों की बरामदगी की. जिसके बाद सारण एसपी ने बताया कि जाली नोटों का इस्तेमाल लोकसभा चुनाव में भी किया जा सकता था. हालांकि पुलिस द्वारा आगे की छानबीन की जा रही है.

जलजमाव से परेशान मुहल्लावासियों ने डीएम से लगाई गुहार

[sharethis-inline-buttons]

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें