गहरी नींद में छपरा नगर निगम, क्या जलजमाव और कूड़े की ढेर से आएगा स्वच्छता रैंकिंग में सुधार?

गहरी नींद में छपरा नगर निगम, क्या जलजमाव और कूड़े की ढेर से आएगा स्वच्छता रैंकिंग में सुधार?

छपरा नगरवासी पूछे: क्या रिहायशी इलाकों में झाड़ू चलने से स्वच्छता रैंकिंग में आएगा सुधार?

बना बारिश जलजमाव से शहर के इलाकों में बना ‘तालाब’

Chhapra: शहर के कई इलाकों में नाले की सफाई नही होने से जलजमाव से राहगीरों और दुकानदारों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. कई ऐसे इलाकें है यहां जलजमाव की स्थिति अक्सर बनी रहती है. मौना चौक से साढ़ा ढाला जाने वाली सड़क हो या फिर तेलपा कोरार की सड़क हो में पिछले कई महीनों से जलजमाव है.

लोगों का कहना है वार्ड पार्षद से बोलने के बाद भी जलजमाओ से मुक्ति नही मिली है. प्रतिदिन कुछ राहगीर दुर्घटना के शिकार होते है. इस पर नगर निगम का कोई ध्यान नही है. जलजमाव से बीमारितों का खतरा लगातार बना हुआ है.

क्या स्वच्छता रैंकिंग में सुधार ऐसे होगा?

हर शहर की कोशिश लगातार जारी है कि कैसे स्वच्छता रैंकिंग के सुधार लेकर अपने शहर को टॉप बनाये. लेकिन छपरा नगर निगम इस रैंकिंग में सुधार को लेकर कुछ भी करता हुआ नजर नही आ रहा है. सवाल कई है, क्या रिहायशी इलाकों में झाड़ू चल जाने से स्वच्छता रैंकिंग में सुधार आएगा या फिर निगम द्वारा रैंकिंग में सुधार के लिए कदम उठाया जाएगा.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें