कुशल कामगारों को सीधे जोड़ेगा ‘चैट-वाट’, जिलाधिकारी ने किया लाँच

कुशल कामगारों को सीधे जोड़ेगा ‘चैट-वाट’, जिलाधिकारी ने किया लाँच

Chhapra: जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन के द्वारा समाहरणालय सभागार में एक चैट-वाट लाँच किया गया. यह चैट-वाट चैटिंग रोबोर्ट की तरह कार्य करेगा.

सहायक समाहर्त्ता वैभव श्रीवास्तव के नेतृत्व में इस चैट-वाट को तैयार किया गया है. इस चैट-वाट की विशेषता यह है कि मोबाईल नंबर 9262996666 पर Whats App मेसेज करने पर सारण जिला में उपलब्ध सेवाओं के लोग, तकनीकी सहायक या उधोग कर्मी जैसे कुशल कामगारों से यह सीधे जोड़ देगा. इसके माध्यम से अपनी जरुरत के अनुसार लोग कुशल श्रमिक या कामगारों की सेवाएं प्राप्त कर सकेंगे. सहायक समाहर्त्ता वैभव श्रीवास्तव ने बताया कि इस चैट-वैट को बनाने में आईआईटी खड़गपुर से पास आउट छात्रों का बड़ा सहयोग मिला है जो स्कील-बी से जुड़े हुए हैं.

इस अवसर पर जिलाधिकारी के द्वारा बताया गया कि लॉकडाउन के समय लगभग 80 हजार श्रमिकों का सारण जिला में वापसी हुयी है. इन श्रमिकों का स्किल मैपिंग कराया गया है और प्रखंडवार इनकी सूची बनाकर उधोग विभाग के पोर्टल पर उपलोड कराया गया है. बाहर से आये लोग किसी न किसी विद्या में दक्ष हैं. इन्हें अब यहीं पर रोजगार के अवसर मिले इसके लिए जिला प्रशासन प्रयासरत है.

इसी कड़ी में मोबाइल नं0 9262996666 जारी किया जा रहा है जिसपर Whats App मेसेज कर अपने जरुरत के अनुसार स्थानीय स्तर पर हीं कुशल कामगार की सेवा प्राप्त होनी शुरु हो जाएगी. इस मोबाइल नंबर पर Whats App मेसेज करते ही आटोमेटिक रुप से सूचनाएं प्राप्त होनी शुरु हो जाएगी और इसी के अनुरुप आगे बढ़ने पर जरुरत के अनुसार सेवा के लिए कुशल कामगारों से वार्त्तालाप हो जाएगी. बाहर से आये सभी कुशल कर्मियों का प्रोफाइल बनाकर इस मोबाइल नंबर से जोड़ा गया है.

जिलाधिकारी ने कहा डीआरसीसी, छपरा में रोजगार एवं उद्यम लगाने के लिए परामर्श भी दिया जा रहा है. सारण जिला में 50 लाख रुपया इनोवेशन फंड के रुप में आया है जिसके माध्यम से विभिन्न प्रकार के उधोगों का क्लस्टर बनाया जाएगा इसकें लिए नगरा में बाँस और लकड़ी के सामान, इसुआपुर में जुता बनाने का उधोग, मढ़ौरा में फर्निचर, परसा में गारमेंट्स उधोग लगाने के लिए चिन्हित किया गया है. कामगारों को ऋण की उपलब्धता बैंको के माध्यम से सुनिश्चित कराने का भी प्रयास किया जा रहा है.

इस अवसर पर सहायक समाहर्त्ता वैभव श्रीवास्तव, अपर समाहर्त्ता डॉ गगन, निदेशक डीआरडीए सुनील कुमार पाण्डेय, डीपीआरओ ज्ञानेश्वर प्रकाश सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे.

 

PM गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब नवंबर महीने के आखिर तक: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें