पुस्तक ‘भारतीय नृत्य शैली, सिनेमा के परिप्रेक्ष्य मे’ का हुआ लोकार्पण

छपरा: अन्तरराष्ट्रीय स्वयंसेवी संगठन लायंस इंटरनेशनल की स्थानीय इकाई लायंस क्लब छपरा सारण के तत्वधान मे युवा लेखक संदीप कुमार की पुस्तक “भारतीय नृत्य शैली, सिनेमा के परिप्रेक्ष्य मे” का लोकार्पण स्थानीय विधायक डॉ सीएन गुप्ता और लायंस क्लब के उपजिलापाल डॉ एस के पाण्डेय व विशिष्ट कला प्रेमियों ने किया. अध्य्क्षता लायंस क्लब अध्य्क्ष मनोज कुमार वर्मा संकल्प ने की.
 
मनोज वर्मा संकल्प ने कहा कि नृत्य के प्रति संदीप का जुनून बचपन से ही रहा. उन्होने स्थानीये मंचो से शुरुआत की और नृत्य को ही अपने अध्ययन का विषय बनाया. छपरा जैसे कसबाई शहर में इस विषय को अपनाना किसी चुनौती से कम नहीं था. किन्तु संदीप ने इसे न केवल स्वीकार किया बल्कि अपनी लगन और निष्ठा से एक पहचान बनाने में भी कामयाब रहे. इस विधा में भविष्य का सपना देख रहे नवनिहालों के लिए प्रेरक बनेगे.  
 
विशिष्ट अतिथि व वरिष्ठ कलाकार गणेश चौधरी ने कहा कि  नृत्य लोच, भंगिमा और अभिव्यक्ति का सशक्त माध्यम हैं छोटे शहर से शुरूआत कर इस विधा को अपनाने के लिए संदीप ने कड़ी मेहनत की हैं . विषय परिवर्तन करते हुए कुमार धीरज ने कहा कि नृत्य का आधुनिक जीवन शैली ने बहुत महत्व हैं. भारतीय नृत्य शैली ने विश्व पलक पर अपनी मुकम्मल उपस्थिती दर्ज करायी हैं. यह पुस्तक भारतीय नृत्य के विभिन्न आयामों का विश्लेषण तो करती है साथ ही हिंदी फिल्म जगत  में नृत्य के बदलते स्वरूप को बड़ी संजीदगी से रेखांकित करती हैं. यह किताब सूचना परक और ज्ञानवर्धक दोनों हैं.    

लायन डॉ एस के पाण्डेय ने कहा कि नृत्य जीवन की शैली है यह व्यक्ति के भावो को आनंद के साथ व्यक्त करती है मन को रोमांचित और तन को झंकृत करती है संदीप ने अपनी पुस्तक मे भारतीय नृत्य के बदलते स्वरूप और विश्व स्तर पर इसकी मजबूत स्थिति को वर्णित करते हुए यह सिद्ध करते हुए कि नृत्य आज के दौड़ मे महज मनोरंजन ही नहीं, कॅरियर बनाने का संपूर्ण क्षेत्र हैं.

0Shares
A valid URL was not provided.