बैंक लूटकांड का पुलिस ने किया उद्भेदन, 3 गिरफ़्तार

अमनौर: पंजाब नेशनल बैंक की भेल्दी शाखा से हुई  लूटकाण्ड का पुलिस ने उद्भेदन कर लिया हैं. पुलिस ने इस घटना में संलिप्त तीन लोगों को गिरफ्तार करते हुए लूट के 13500 रु नगद भी बरामद किये है.

बैंक लूट काण्ड की घटना को छः अपराधियों ने मिलकर अंजाम दिया था. जिसमे तीन हाजीपुर के दो डेरनी थाना एवं एक अवतार नगर थाना क्षेत्र के बताये गए है. पुलिस अन्य तीन की गिरफ्तारी के लिए स्पेशल टीम गठित कर लगातार छपेमारी कर रही है.

घटना को लेकर अमनौर थाना परिसर में एसडीपीओ मढ़ौरा अशोक कुमार सिंह ने प्रेस वार्ता कर बताया कि 20 मार्च को भेल्दी के पंजाब नेशनल बैंक में लुटेरों ने 4.95 लाख लूट की घटना को अंजाम दिया था. जिंसके बाद से पुलिस लगातार अपराधियो को पकड़ने के लिए छापेमारी कर रही थी. उन्होंने बताया कि लूट के अनुसंधान के क्रम में वैशाली जिले के राजा पाकर थाना क्षेत्र में लूट करते दो अपराधी अवतार नगर थाना क्षेत्र के रामगढ़ निवासी मुन्ना राय व डेरनी थाना क्षेत्र के छोटू पंडित को गिरफ्तार किया गया. दोनों से पूछताछ के क्रम में पता चला कि यह दोनों बैंक लूट की घटना में संलिप्त थे.

इनके स्वीकारोक्ति के बाद अपराधियों की गिरफ़्तारी को लेकर छापेमारी की गयी. जिसमे डेरनी थाना से संजय सिंह को गिरफ्तार किया गया साथ ही लूट में प्रयुक्त मोटरसाइकिल व पास से 13,500 रु भी बरामद किया गया. साथ ही उसने इस घटना में अपनी संलिप्ता स्वीकार की.
उन्होंने बताया कि पकड़े गए तीनो अपराधियो के द्वारा बताया गया है कि भेल्दी में ही बैंक लूट की योजना बनाई गई थी. लगभग अपराह्न 12 बजे बैंक लूटने के बाद ग्रामीण सड़क से भागकर गरखा में मिले और वहाँ से लूट के पैसे, हथियार, सीसीटीवी के हार्ड डिस्क लेकर हाजीपुर के तीन अपराधी हाजीपुर की तरफ चले गए.

एएसपी ने बताया कि बैंक लूटकांड में छः अपराधी शामिल थे. जिसमे तीन को गिरफ्तार कर लिया गया है. अन्य तीन हाजीपुर के अपराधियो की गिरफ्तारी के लिए स्पेशल टीम गठित कर लगातार छापेमारी जा रही है. उन्होंने इसमें शामिल सभी पदाधिकारियो को इनके सफल कार्य के लिए काफी सराहा.

 प्रेसवार्ता के मौके पर अमनौर थाना प्रभारी उदय कुमार, डेरणी थाना अध्यक्ष राज रूप राय, भेल्दी थाना अध्यक्ष खलिद अख्तर, एस आई संतोष रजक, अरविन्द सिंह, अरुण तिवारी शामिल थे.

0Shares
A valid URL was not provided.