प्रत्येक प्रखंड में उर्वरक की उपलब्धता की समीक्षा की जाय: जिलाधिकारी

प्रत्येक प्रखंड में उर्वरक की उपलब्धता की समीक्षा की जाय: जिलाधिकारी

Chhapra: जिलाधिकारी सारण राजेश मीणा के द्वारा आज समाहरणालय सभाकक्ष में आयोजित जिले में उर्वरक की आवष्यकता एवं उपलब्धता विषय से संबंधित बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि जिले के प्रत्येक प्रखंड में उर्वरक की उपलब्धता की समीक्षा की जाय ताकि किसानों को उर्वरक की कमी न हो सके।
जिला कृषि पदाधिकारी के द्वारा बताया गया कि जिले में छपरा ग्रामीण, मुजफ्फरपुर, सिवान, आरा, सराय, वैशाली, बापूधाम मोतीहारी रेवले रैक प्वाइंट है। जहाँ से जिला को उर्वरक प्राप्त होता है। उन्होने बताया कि जिला में यूरिया नीम कोटेड-266.50 रु प्रति बोरा, एम0ओ0पी0-1000 रु प्रति बोरा, डी0ए0पी-1200 रु प्रति बोरा की दर निर्धारित है इसके साथ ही अन्य उर्वरकों की निर्धारित दर की भी जानकारी दी गयी। इसी दर पर किसानों को उपलब्ध कराया जा रहा है। कृषि पदाधिकारी के द्वारा बताया गया कि जिला में उर्वरक की कोई कमी नही है।
जिलाधिकारी के द्वारा प्रखंड स्तर पर उपलब्धता की जाँच करते रहने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी के द्वारा बताया गया कि किसानों को उनकी आवश्यकता के हिसाब से ही उनको बीज एवं उर्वरक उपलब्ध कराया जाय। उनके किसी और उर्वरक को खरीदने के लिए विवष नही किया जाना चाहिए। जिलाधिकारी के द्वारा जिला कृषि पदाधिकारी को यह भी निर्देश दिया गया कि किसानों को अतिशीघ्र बीज एवं उर्वरक उपलब्ध कराया जाय ताकि बोआई का कार्य किसान समय पर कर सके।
बैठक में जिलाधिकारी के साथ उप विकास आयुक्त, जिला कृषि पदाधिकारी, जिला सहकारिता पदाधिकारी एवं कृषि विभाग के अन्य पदाधिकारी के अलावे उर्वरक के थोक विक्रेता भी उपस्थित थे

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें