मतदान से पहले मुखिया प्रत्याशी के भाई का अपहरण

मतदान से पहले मुखिया प्रत्याशी के भाई का अपहरण

गोपालगंज: मतदान से पहले मुखिया प्रत्याशी के भाई का अपहरण शनिवार की रात कर लिये जाने से इलाके में सनसनी फैल गयी. घटना कटेया थाने के रूपपोइया गांव की है. अपहृत युवक अखिलेश यादव उर्फ पट्टू यादव पंचदेवरी प्रखंड के राजद का युवा अध्यक्ष भी है. पुलिस ने इस मामले में अपहृत युवक के भाई राकेश कुमार यादव के बयान पर अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है.

कटेया व पंचदेवरी दोनों प्रखंडों में 20 अक्तूबर को पंचायत चुनाव का मतदान है. परिजनों ने बताया कि अखिलेश यादव उर्फ पट्टू यादव ने शनिवार को समर्थकों के साथ मगहिया पंचायत की मुखिया प्रत्याशी अपनी बहन अंजलि कुमारी के लिए चुनाव प्रचार किया.

जनसंपर्क करने के बाद शाम सात बजे घर आ गया. कुछ ही मिनट बाद पल्सर से लामीचौर की तरफ जनसंपर्क करने निकला, लेकिन देर रात तक नहीं लौट सका. मोबाइल भी बंद हो गया. सगे-संबंधियों और रिश्तेदारों के यहां खोजबीन शुरू कर दी गयी. रविवार की सुबह तक अखिलेश के बारे में जानकारी नहीं मिलने पर कटेया थाने में सूचना दी. कटेया पुलिस छापेमारी में जुटी रही.

उधर, घटना की सूचना मिलने पर पुलिस कप्तान आनंद कुमार के निर्देश पर हथुआ एसडीपीओ नरेश कुमार जांच के लिए पहुंचे. एसडीपीओ ने परिजनों से घटना की जानकारी ली और पूरे मामले की तफ्तीश शुरू कर दी.

एसडीपीओ ने कहा कि अखिलेश यादव की खोजबीन की जा रही है. किस परिस्थिति में प्रत्याशी का भाई गायब हुआ है, इसकी जांच चल रही है. मगहिया पंचायत से अखिलेश यादव उर्फ पट्टू यादव के पिता स्व. अच्छेलाल यादव मुखिया रह चुके हैं.

 

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें