सूबे के सरकारी अस्पतालों के लिए नजीर बना बेगूसराय सदर अस्पताल

सूबे के सरकारी अस्पतालों के लिए नजीर बना बेगूसराय सदर अस्पताल

Begusarai: एक समय था जब बेगूसराय का सदर अस्पताल सिर्फ पोस्टमार्टम के लिए जाना जाता था, लेकिन समय के साथ नीतीश सरकार ने इस अस्पताल की तस्वीर को बदला और धीरे-धीरे अस्पताल में इलाज की कई सुविधाएं शुरू हो गई. फिर इस अस्पताल के अधीक्षक बने डॉक्टर आनंद शर्मा ने इसकी तस्वीर को बदलने की ठान ली और सभी विभागों में एक बेहतर सुविधा देकर कार्य संस्कृति का बदलाव किया. आज जहां बेगूसराय सदर अस्पताल में मरीजों के लिए बने वार्ड किसी बड़े निजी अस्पताल से कम नहीं दिखते वहीं सरकारी डॉक्टरों के लिए भी कई सुविधाएं हैं जिससे यहां के चिकित्सक मन लगाकर काम करते हैं और यहां आने वाले अधिकांश मरीज ठीक हो करके अपने घरों को जाते हैं.

डॉ आनंद शर्मा ने निजी अस्पताल से भी बेहतर सदर अस्पताल को सजाया है और पार्किंग के साथ पेयजल जैसी आवश्यक सुविधाएं भी लोगों को प्रदान की है. आनंद शर्मा सदर अस्पताल को सुधारने के पीछे काफी मशक्कत करनी पड़ी लेकिन अब इनको काफी संतोष है कि सब जगह इनके अस्पताल की सराहना हो रही है

बेगूसराय सदर अस्पताल के इन तस्वीरों को जिलाधिकारी राहुल कुमार ने भी ट्वीट किया है. सोशल मीडिया पर लोग इन तस्वीरों की प्रशंसा कर रहे हैं. लेकिन आज जब सोशल मीडिया में अस्पताल चर्चा का विषय बना हुआ है तो आनंद शर्मा को काफी संतोष हो रहा है डॉ शर्मा कहते हैं कि आगे भी बेगूसराय सदर अस्पताल पूरे सूबे की पहचान बनेगी ऐसा उनका प्रयास है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.