पहलगाम बस हादसे में आईटीबीपी के सात जवान शहीद, 34 जख्मी

पहलगाम बस हादसे में आईटीबीपी के सात जवान शहीद, 34 जख्मी

-हादसे में जवानों की मौत पर राष्ट्रपति और उपराज्यपाल समेत कई नेताओं ने जताया शोक

अनंतनाग/नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले के पहलगाम से छह किलोमीटर पहले आईटीबीपी और जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवानों को अमरनाथ डयूटी से वापस ला रही एक बस सड़क से फिसलकर गहरी खाई में जा गिरी। इस हादसे में भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के सात जवान शहीद हो गए, जबकि 34 अन्य घायल हैं। इसमें गंभीर रूप से घायल नौ जवानों को एयरलिफ्ट करके श्रीनगर के सैन्य अस्पताल पहुंचाया गया है। बाकी घायलों का उपचार अनंतनाग जिला अस्पताल में जारी है।

आईटीबीपी के प्रवक्ता विवेक पांडेय के मुताबिक, बस में आईटीबीपी के 37 जवान, जेकेपी के दो जवान और दो बस कर्मचारी शामिल थे। यह हादसा मंगलवार सुबह 9 बजकर 40 मिनट पर हुआ। ये सभी जवान वार्षिक अमरनाथ यात्रा के सफल आयोजन के लिए यात्रा मार्ग पर तैनात थे।

शहीदों की पहचान पंजाब तरनतारन के निवासी हेड कांस्टेबल दुला सिंह, बिहार लखीसराय के निवासी कांस्टेबल अभिराज, उत्तर प्रदेश के एटा निवासी कांस्टेबल अमित के, आंध्र प्रदेश के कड़प्पा निवासी कांस्टेबल डी.राज शेखर, राजस्थान के सीकर निवासी कांस्टेबल सुभाष सी बैरवाल, उत्तराखंड के पिथौरागढ़ निवासी कांस्टेबल दिनेश बोहरा और जम्मू निवासी कांस्टेबल संदीप कुमार के रूप में हुई है।

 

पुलिस के अनुसार जम्मू-कश्मीर पुलिस की बस में सवार ये जवान जब चंदनबाड़ी से पहलगाम की ओर निकले तो रास्ते में पहलगाम मार्ग से 6 किमी दूर बस ड्राइवर वाहन पर से नियंत्रण खो बैठा। इसके बाद यह बस लिद्दर नदी के किनारे खाई में जा गिरी। दुर्घटना के तुरंत बाद स्थानीय लोग बचाव कार्य के लिए खाई में उतर गए। इस बीच आईटीबीपी के दूसरे जवानों, पुलिस एवं सेना को भी सूचित कर दिया गया। मौके पर पहुंचे स्थानीय लोगों तथा सुरक्षा बलों ने बस में सवार सभी घायलों को मुख्य सड़क तक लाया और वहां से उन्हें अनंतनाग जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने सात जवानों को शहीद घोषित कर दिया, जबकि 34 में से नौ गंभीर रूप से घायलों का उपचार श्रीनगर सैन्य अस्पताल में जारी है।

प्रवक्ता विवेक पांडेय ने हादसे में शहीद हुए जवानों के परिवारों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की है। उन्होंने कहा कि घायलों को हर संभव मदद मुहैया कराई जा रही है।

बस हादसे में आईटीबीपी के जवानों की मौत पर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा समेत कई नेताओं ने गहरा शोक प्रकट किया है। राष्ट्रपति ने ट्वीट संदेश में कहा, “जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना में आईटीबीपी कर्मियों के अनमोल जीवन का दुखद नुकसान मुझे दुख से भर देता है। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।”

उपराज्यपाल सिन्हा ने एक ट्वीट में कहा कि इस हादसे से उन्हें गहरा दुख हुआ है, जिसमें हमने आईटीबीपी के बहादुर जवानों को खो दिया। शहीद जवानों के परिवारों के प्रति मैं संवेदनाएं व्यक्त करता हूं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। उन्होंने कहा कि घायलों को हरसंभव सहायता प्रदान की जा रही है।

0Shares
[sharethis-inline-buttons]

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें