67 BPSC परीक्षा: पेपर लीक मामले में मजिस्ट्रेट व प्रिंसिपल समेत 4 गिरफ्तार

67 BPSC परीक्षा: पेपर लीक मामले में मजिस्ट्रेट व प्रिंसिपल समेत 4 गिरफ्तार

67 BPSC परीक्षा: पेपर लीक मामले में मजिस्ट्रेट व प्रिंसिपल समेत 4 गिरफ्तार

पटना: 67वी बिहार लोक सेवा आयोग के प्रश्न पत्र लीक होने के मामले में कार्रवाई शुरू हो चुकी है. मंगलवार को वीर कुंवर सिंह कॉलेज पर प्रतिनियुक्त मजिस्ट्रेट सह बड़हरा के बीडीओ जयवर्धन गुप्ता, प्रिंसिपल योगेंद्र सिंह, लेक्चरर सह कंट्रोलर सुशील कुमार सिंह और लेक्चरर सह सहायक सुपरिटेंडेंट अगम कुमार सहाय को ईओयू ने किया गिरफ्तार.

बता दें कि बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) की 67 वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा (पीटी) के पेपर लीक मामले में आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) ने एफआईआर दर्ज कर की थी। हालांकि ईओयू थाना में दर्ज एफआईआर (कांड संख्या 20/22) में किसी को अभियुक्त नहीं बनाया गया है. फिलहाल अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर जांच किया जा रहा है. डीएसपी रैंक के अधिकारी को इस केस का आईओ बनाया गया है.

गौरतलब है कि प्रश्नपत्र वायरल होने का मामला सामने आने के बाद बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) ने 67वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा (पीटी) को रद्द कर दिया गया. प्रश्नपत्र वायरल होने की जांच के लिए बनी आयोग की कमेटी की रिपोर्ट के बाद अध्यक्ष आरके महाजन ने परीक्षा रद्द करने का निर्णय लिया. प्रश्नपत्र कहां से लीक हुआ, किसने वायरल किया, इसकी जांच के लिए आयोग की सिफारिश पर डीजीपी ने टीम गठित कर दी गई. बता दें कि बीपीएससी 67वीं प्रारंभिक परीक्षा रविवार 12 बजे से शुरू होनी थी. इससे पहले ही प्रश्नपत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. परीक्षा के बाद परीक्षार्थियों ने भी दावा किया कि वायरल प्रश्नपत्र के सवाल परीक्षा में पूछे गए प्रश्नपत्र से मिल गए हैं.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें