दुर्लभ खगोलीय घटना के गवाह बने लोग, पृथ्वी से दिखा बृहस्पति और शनि ग्रह के करीब आने का नजारा

दुर्लभ खगोलीय घटना के गवाह बने लोग, पृथ्वी से दिखा बृहस्पति और शनि ग्रह के करीब आने का नजारा

New Delhi: 400 साल बाद बृहस्पति और शनि ग्रह पृथ्वी के इतने करीब आये हैं कि उन्हें आसमान में आसानी से देखा जा सकता है. वैज्ञानिकों ने इसे ‘Great Conjunction’ का नाम दिया है. सौरमंडल के दो सबसे बड़े ग्रह बृहस्पति और शनि एक दूसरे के बेहद करीब आए. यह अद्भुत संयोग साल 2080 तक फिर नहीं होगा.

खगोलविदों के अनुसार दोनों ग्रह वास्तव में 730 मिलियन किलोमीटर से अधिक दूर हैं. लेकिन पृथ्वी के संबंध में उनके संरेखण (alignment) के कारण वे लगभग 400 वर्षों में किसी भी समय एक दूसरे के करीब दिखाई देते हैं.

दोनों ग्रह भारतीय समय अनुसार रात करीब 11 बजकर 52 मिनट पर एक-दूसरे के सबसे करीब होंगे. ये दोनों ग्रह इससे पहले 17वीं शताब्दी में महान खगोलविद गैलीलियो के जीवनकाल में इतने पास आए थे. अंतरिक्ष वैज्ञानिकों का कहना है कि हमारे सौरमंडल में दो बड़े ग्रहों का नजदीक आना बहुत दुर्लभ नहीं है. बृहस्पति ग्रह अपने पड़ोसी शनि ग्रह के पास से प्रत्येक 20 साल पर गुजरता है, लेकिन इसका इतने नजदीक आना खास है.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें