NASA के रोबोट हेलीकॉप्टर ने मंगल ग्रह पर उड़ान भरकर रचा इतिहास

NASA के रोबोट हेलीकॉप्टर ने मंगल ग्रह पर उड़ान भरकर रचा इतिहास

अमेरिकी अंतिरिक्ष एजेंसी NASA ने सफलता की एक नई छलांग लगाई है. NASA के रोबोट हेलीकॉप्टर ने मंगल ग्रह पर सोमवार तड़के पहली उड़ान भरकर इतिहास रच दिया है. धरती से परे किसी दूसरे ग्रह पर इस तरह की यह पहली उड़ान है. छोटे आकार का यह हेलीकॉप्टर उड़ान के दौरान दस फीट की ऊंचाई पाने में सफल रहा.

नासा ने कहा कि इस सफलता से सौर मंडल के मंगल समेत दूसरे ग्रहों पर खोज के नए तरीकों का मार्ग प्रशस्त हो सकता है. इस बीच इस प्रोजेक्ट की मैनेजर मिमि आंग ने कहा कि हम अब यह कह सकते हैं कि इंसान दूसरे ग्रह पर रोटरक्राफ्ट उड़ा सकते हैं।’ नासा ने बताया कि कार्बन फाइबर के ब्लेड घूमने लगे और इनजेनयुटी नाम के हेलीकॉप्टर ने लाल ग्रह की सतह को छोड़कर उड़ान भरी. करीब दस फीट की ऊंचाई के बाद यह वापस लैंड कर गया और यह सब करीब 30 सेंकेंड का रहा. इस मिशन को लॉस एंजिलिस के पास स्थित नासा के जेट प्रोपल्सन लेबोरेटरी से संचालित किया गया. नासा ने इस मिशन की कुछ तस्वीरें जारी की हैं, जबकि वीडियो में हेलीकॉप्टर को धूल के बीच उड़ान भरते देखा गया.

लगभग 1.8 किलोग्राम का यह रोबोट रोटरक्राफ्ट अपने चार कार्बन फाइबर ब्लेड के सहारे उड़ान भरने में सक्षम है. इसके ब्लेड 2400 राउंड प्रति मिनट की दर से घूम सकते हैं. यह स्पीड धरती पर मौजूद हेलीकॉप्टरों के ब्लेड की गति से लगभग आठ गुना ज्यादा है.

नासा ने मंगल ग्रह पर जीवन की तलाश में गत 18 फरवरी को पर्सिवेरेंस नामक अपना रोवर उतारा था. इसके साथ ही यह हेलीकॉप्टर भी लाल ग्रह पर पहुंचा था.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें