एक से बढकर एक चैता गीतों को सुन झूम उठे लोग

एक से बढकर एक चैता गीतों को सुन झूम उठे लोग

जलालपुर: प्रखंड के जलालपुर चौक स्थित महेंद्र मिश्र की प्रतिमा परिसर में आयोजित चैता में एक से बढ़कर एक चैता गीतों को सुनकर लोग झूम उठे.

शुक्रवार की संध्या आयोजित इस चैता कार्यक्रम में पूर्वी धून के महान सम्राट पंडित महेंद्र मिश्र की कई रचनाओं को गायकों ने मधुर स्वर दिया. जिसे सुनकर लोग झूमने लगे.

चैता मासे होख ना सहैया हो रामा चैता मासे, रामजी जन्म ली हले चैत के महिनवा हो रामा चैता मासे, जैसे एक से बढ़कर एक चैता लोगों को सुनने को मिले. इस पर लोग झूमने लगे.

स्थानीय कलाकारों ने इस चैता गीत में अपनी संगीत कला का बखूबी प्रदर्शन किया. महेंद्र मिश्र के चैता गीतों को सुनकर एक बार फिर लोग महेंद्र मिश्र को याद करने लगे. कार्यक्रम मे वंशीधर तिवारी, कन्हैया सिंह तूफानी, विनय मिश्रा, रामनाथ मिश्रा, मुखिया राजेश मिश्रा, सत्येंद्र चौबे, नीतीश पांडेय, रामकुमार मिश्र, मनोज मिश्रा, राजू तिवारी सहित कई अन्य भी उपस्थित थे.

छपरा टुडे डॉट कॉम की खबरों को Facebook पर पढ़ने कर लिए @ChhapraToday पर Like करे. हमें ट्विटर पर @ChhapraToday पर Follow करें. Video न्यूज़ के लिए हमारे YouTube चैनल को @ChhapraToday पर Subscribe करें