Jun 26, 2017 - Mon
Chhapra, India
29°C
Wind 5 m/s, E
Humidity 79%
Pressure 750.06 mmHg

26 Jun 2017      

Home सारण

पानापुर: मानव श्रृंखला में भाग नही लेना उत्क्रमित मध्य विद्यालय मुरलीमठ के छात्रो को महंगा पड़ गया. सोमवार को एचएम एवं शिक्षा समिति के सचिव एवं उसके सहयोगियों ने छात्र छात्राओ की जमकर पिटाई कर दी. पिटाई से सुलेखा कुमारी, नेहा कुमारी, प्रीति कुमारी, मंजीत कुमार, पवन कुमार सहित दर्जनों छात्र घायल हो गए.

छात्रो की पिटाई की खबर जैसे ही अभिभावको को मिली वे विद्यालय की तरफ दौड़े. एचएम एवं सचिव के सहयोगियों ने उन्हें भी दौड़ा दौड़ा कर पीटा एवं महिलाओ के कपड़े तक फाड़ डाले. इस दौरान विद्यालय परिसर रणक्षेत्र में तब्दील हो गया था. सूचना पाकर स्थानीय थाने की पुलिस मौके पर पहुँची. पुलिस के पहुँचने की भनक लगते ही एचएम एवं सचिव मौके से फरार हो गए. हालांकि सचिव के एक सहयोगी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया.

मानव श्रृंखला के नाम पर की गयी थी अवैध वसुली

छात्रो के अनुसार मानव श्रृंखला में भाग लेने के लिए प्रति छात्र 60 रूपये की वसूली की गयी थी. शनिवार को एचएम द्वारा कहा गया कि तुमसब साईकिल से तरैया चलो. मुरलीमठ से तरैया की दूरी लगभग 15 किलोमीटर है. गाड़ी की उपलब्धता नही होने से अधिकांश छात्र मानव श्रृंखला में नही जा सके. इसी से बौखलाए एचएम एवं सचिव के सहयोगियों ने छात्रो की जमकर पिटाई कर दी.

ग्रामीणों ने किया अनिश्चितकालीन तालाबन्दी

घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने विद्यालय में अनिश्चितकालीन तालाबन्दी कर दी. ग्रामीणों का कहना है कि जबतक विद्यालय के एचएम शिलानाथ राम एवं सचिव गीता देवी को विद्यालय से नही हटाया जाता है तबतक तालाबन्दी जारी रहेगा .ग्रामीणों ने इस घटना से बीआरसी कार्यालय को भी अवगत करा दिया है.

इस सम्बन्ध में विद्यालय के छात्रो एवं अभिभावक रमावती देवी ने स्थानीय थाणे में अलग अलग आवेदन देकर एचएम एवं सचिव पर उचित कार्रवाई की मांग की है ।क्या कहते है बीईओ ?इस सम्बन्ध में बीईओ श्रीराम महतो ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है ।दोषी पाये जाने पर एचएम एवं सचिव के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी

(Visited 3 times, 1 visits today)

Comments are closed.

error: Content is protected !!