Oct 20, 2017 - Fri
Chhapra, India
26°C
Wind 2 m/s, E
Humidity 94%
Pressure 755.31 mmHg

20 Oct 2017      

Home मांझी

Manjhi (Saran): प्रखंड मुख्यालय के बैरिया घाट तथा ताजपुर फुलवारिया घाट पर सरयू में रविवार की सुबह दशहरा का स्नान करने गए दो किशारों की डूबने से हुई मौत से पूरा माहौल गमगीन हो गया. दोनों स्थानों पर दहाड़ मारकर रो रहे परिजनों तथा शव की खोजबीन में भारी भीड़ उमड़ पड़ी. सीओ सिद्धनाथ सिंह तथा थानाध्यक्ष अनुज कुमार पाण्डेय के नेतृत्व में दोनों स्थानों पर शव की खोजबीन शुरू की गई. कुछ ही घंटों में फुलवारिया घाट पर डूबे ताजपुर निवासी संजय सिंह के पुत्र सन्नी कुमार 13 वर्ष का शव बरामद कर लिया गया तथा उसे पोस्टमार्टम के लिए छपरा भेज दिया गया.

उधर बैरिया घाट पर डूबे धरणी दास के मठिया. शनिचरा बाजार निवासी प्रह्लाद पंडित के 15 वर्षीय पुत्र विकास कुमार का शव संवाद प्रेषण तक बरामद नहीं किया जा सका था. समाजसेवी कृष्णा सिंह पहलवान के नेतृत्व में आधा दर्जन गोताखोरों का दल नाव तथा महाजाल के सहारे शव की खोजबीन में लगे थे.

मांझी के बैरिया घाट पर शव की खोजबीन करने पहुंचे पदाधिकारियों से लोगों ने घाटों पर सुरक्षा ब्यवस्था की मांग उठाई. लोगों का कहना था कि मझनपूरा से जई छपरा तक लगभग 25 किमी का सरयू का तटीय क्षेत्र भगवान भरोसे है. इस वर्ष नदी की तेज धारा के कारण प्रसिद्ध राम घाट डुमाई गढ़ घाट समेत आधा दर्जन घाट खतरनाक हो चुके हैं तथा लोगों के डूबने की कई घटनाएं घट चुकी है.

लोगों ने दशहरा से छठ पूजा तक इन घाटों की बेरिकेटिंग कराने सरकारी स्तर पर स्थायी रूप से दो मोटर बोट उपलब्ध कराने तथा घाटों पर गोताखोरों की नियुक्ति करने की मांग की.

(Visited 40 times, 1 visits today)

Comments are closed.

error: Content is protected !!